Agniveer बनने के लिए उत्साहित युवा, मात्र 4 दिनों में आएं 94 हज़ार से ज्यादा आवेदन

ज़रूर पढ़ें

अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रदर्शन ज्यादातर बिहार के कई इलाकों में जहाँ हालात नाजुक थे. रांची में भी स्थिति भयावह थी साथ हीं उत्तरप्रदेश, पश्चिम बंगाल समेत कई राज्य प्रभावित हुये. लेकिन इस बिच अग्निवीरों से जुडी एक बहुत बड़ा खुलासा हुआ है, जहाँ आवेदन की संख्या काफी चौकाने वाले आएं हैं

अग्निपथ योजना को लेकर देश भर में विरोध प्रदर्शन हुए. इस बिच ट्रेनों को आग लगा दी गई. करोड़ो का नुकसान देश को झेलना पड़ा. पब्लिक प्रॉपर्टीज में सरेआम हमला करना, ऐसे में इन घटनाओं ने देश का माहौल बेहद तनावपूर्ण कर दिया.

- Advertisement -

वहीँ अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रदर्शन ज्यादातर बिहार के कई इलाकों में जहाँ हालात नाजुक थे. रांची में भी स्थिति भयावह थी साथ हीं उत्तरप्रदेश, पश्चिम बंगाल समेत कई राज्य प्रभावित हुये. लेकिन इस बिच अग्निवीरों से जुडी एक बहुत बड़ा खुलासा हुआ है, जहाँ आवेदन की संख्या काफी चौकाने वाले आएं हैं.

14 जून को अग्निपथ योजना की घोषणा की गई थी, जिसके बाद प्रदर्शन शुरू और इस बिच ऐलान हुआ कि इसी 24 जून से आवेदन शुरू हो जायेगा. बता दें कि 24 जून की सुबह ऑनलाइन आवदेन शुरु हुआ था जो फिलहाल 5 जुलाई तक चलेगा. इस बिच आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अग्निपथ योजना के तहत थलसेना और नौसेना में अग्निवीर बनने के लिए आवेदन 1 जुलाई से शुरु होगा.

गौरतलब है कि अग्निपथ योजना के तहत भारतीय वायु सेना में अग्निवीर चाल साल के लिए की जाएगी. बता दें कि अग्निवीर वायु किसी भी अन्य मौजूदा रैंक से अलग भारतीय वायु सेना में एक अलग रैंक होगी. हांलाकि, भर्ती के बाद चार साल की सेवा पूरी करने के बाद वायु अग्रिवीर को भारतीय वायु सेना में परमानेंट नौकरी करने के लिए आवेदन करने का अवसर दिया जाएगा.

- Advertisement -

यहां आपको बता दें कि जिस तरीके से कुछ दिन पहले तक अग्निपथ योजना के खिलाफ हनगम मचा हुआ था, ऐसा लगा जैसे इस बार सेना की भर्ती में आवेदन बहुत कम होंगे लेकिन आश्चर्य की बात ये है कि मात्र 4 दिनों के भीतर भीतर 9 हज़ार से ऊपर आवेदन आएं हैं.

इन आकड़ों ने हर किसी को चौंका दिया है. चुकी सोशल मीडिया पर दावे किये जा रहे थे कि आने वाले समय में हों ना हो सरकार की ये योजना ठप पर जाये. मौजूदा समय का परिणाम इन दावों के बिलकुल विपरीत है.

बता दें कि अग्निपथ योजना के तहत भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) में अग्रिनवीर बनने के लिए पिछले तीन दिनों में कुल 94,281 आवेदन आ चुके हैं.

आपको जानकारी देते हुये बता दें कि वायुसेना के मुताबिक, 27 जून यानि सोमवार सुबह 10.30 तक कुल 94,281 अभ्यर्थियों ने वायुसेना की वेबसाइट पर वायु-अग्निवीर के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन/पंजीकरण कर चुके हैं.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...