आखिर रोटियां गोल क्यूं बनती है? क्या अपने सोचा ये होंगी 5 वजहें

ज़रूर पढ़ें

रोटी गोल हुई इसका मतलब आपको रोटी बनाना आ गया है. ऐसे में मन में सवाल उठते हैं कि आखिर रोटियों का आकर आखिर गोल क्यों होता है?

रोटी बनाने की बात जब भी आती है, तब हर किसी के मुँह से आपने सुना होगा की रोटी गोल हुई इसका मतलब आपको रोटी बनाना आ गया है. रोटी थोड़ी सी भी टेढ़ी बन जाए तो  तो इसे परफेक्ट नहीं माना जाता है. अब ऐसे में आपके मन में कई सवाल उठते हैं कि आखिर रोटियों का आकर आखिर गोल क्यों होता है? हम इस लेख में आपको इससे जुडी कई जानकारियां देंगे जिसके आधार पर माना जाता है की रोटियां गोल इन्हीं वजहों से बनाई जाती है.

- Advertisement -

गोल रोटी और युद्ध

रोटी और इसका आकर गोल ये सम्बन्ध दरअसल युद्ध से बताया जता है. रोटी ऐसा माना जाता है कि रोटी बनाने की शुरुआत युद्ध के दौरान हुई थी और जब सैनिक पहले यात्रा पर जाते थे तो इसे उन्हें बांधकर दिया जाता था और इसकी शेप कटोरी की तरह होती थी, ताकि इसमें सब्जियां या बाकी फिलिंग्स भरकर आसानी से खाया जा सके.

गोल रोटी के पीछे साईकोलॉजी

गोल रोटी लोगों के साईकोलॉजी से बहुत जुड़ा हुआ है. शुरुआत की पीढ़ी से लोगों ने रोटी को गोल देखा और यही खाया. ऐसे में माना गया है की हमारे मस्तिष्क के लिए और विशेष रूप से हमारी आंखों के लिए, गोलाकार कोने प्रोसेस करना आसान होता है.

इसका मतलब है कि गोल वस्तुओं को देखना आसान है और इसलिए यह उपयोग में आसान होती है. आंख का वह हिस्सा जो छवियों को प्रोसेस करता है, फोविया, सर्कल्स को समझने में सबसे तेज़ होता है. ऐसा इसलिए है क्योंकि किनारे जितने नुकीले होते हैं, वस्तुएं उतनी ही चमकदार दिखाई देती हैं. वस्तु जितनी गोल होती है, वह उतनी ही कम चमकदार दिखाई देती है.

बनाना और खाना आसान

गोल रोटी को बनाना और खाना दोनों आसान होता है. गोल रोटी के लिए जब आप चकले में लोई रखते हैं और उसे बेलना बहुत आसान हो जाता है. आपका बेलन चकले में घूमती चली जाती हैं. जिसके बाद इसका गोल आकर बन जाता है. गोल रोटी चारों ओर से पक भी जल्दी और आसानी से जाती है वहीं दूसरे चोकोर या अन्य आकार में बनी रोटी के किनारे अक्सर कच्चे रह जाते हैं.

पतली गोल रोटी

रोटियां गोल बनाने का एक और कारण है और वो यह है कि जब आप लोई बेलते हैं तो आटा जगह-जग से मोटा नहीं रहता है. इसे फैलाना आसान होता है. गोल आकार में रोटी बेलने से वह समान रूप से चपटी होती है और उसके किनारे भी मोटे नहीं रहते हैं, जिससे वह आसानी से पक जाती हैं.

गोल रोटी फूलती है जल्दी

रोटी बनाने के लिए उसका फूलना भी जरुरी है. जब आटा अच्छी तरह गूंथा हो और अच्छी तरह गोल आकार में बेला गया हो तो रोटियां अच्छी तरह से फूलती भी हैं. इसलिए रोटियों का आकार गोल होता है. 

- Advertisement -

Latest News

PM मोदी से आम आदमी कैसे कर सकता है बात? जाने नंबर, एड्रेस से लेकर ईमेल आईडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इतने लोकप्रिय हैं कि उनके सोशल मीडिया साइट्स पर करोड़ो फॉलोवर्स हैं. ऐसे में उनसे जुड़े...

अन्य आर्टिकल पढ़ें...