मच्छर काटने पर खुजली क्यों होती है? फैक्ट्स जानकर उड़ जायेंगे होश

ज़रूर पढ़ें

मच्छर काटने पर खुजली क्यों होती है? बादशाह के 4 पत्तों में से एक पत्ते पर मुछे क्यो नहीं होती है? तो चलिए सुनते हैं सुनाते हैं और इन सभी सवालों का जवाब देते हैं फैक्ट्स के साथ. दोस्तों आज का फैक्ट्स हर बार की तरह बेहद अलग है

मच्छर काटने पर खुजली क्यों होती है? बादशाह के 4 पत्तों में से एक पत्ते पर मुछे क्यो नहीं होती है? तो चलिए सुनते हैं सुनाते हैं और इन सभी सवालों का जवाब देते हैं फैक्ट्स के साथ. दोस्तों आज का फैक्ट्स हर बार की तरह बेहद अलग है.

- Advertisement -
  • आमतौर पर माना जाता है कि अगर नींद आए तो आपको कॉफी पी लेना चाहिए जिससे आपको नींद नहीं लगती लेकिन हम आपको बता दें की नींद भगाने में सेब कॉफी से भी असरदार है इसलिए ज्यादा सेब का ही इस्तेमाल करें अगर आप रात को काम करना पसंद करते हैं तो ट्राई जरूर कीजिएगा
  • दोस्तो हम अपने रोजमर्रा की जिंदगी में दही का सेवन तो आमतौर पर करते हैं लेकिन वहीं अगर आपको दही जल्दी और अच्छी जमानी हो तो आप दही जमाने के लिए उसमें कच्ची हरी मिर्च थोड़ी मात्रा में डाल सकते हैं जिससे दही जल्दी और जबरदस्त जमेगी
  • स्पेस पेन उस कलम को कहा जाता है जिस कलम से अंतरिक्ष में कुछ भी लिखा जा सकता है क्योंकि अंतरिक्ष में जीरो ग्रेविटी होती है इसलिए वहां पर इंक वाली कलम काम नहीं करती है इस स्पेस पेन से पानी के अंदर भी लिखा जा सकता है
  • हमें इतना तो पता ही है की मच्छर हमारा खून चूसने के लिए अपना डंक चुभाते है जो मादा मच्छर हमें काटती है वह बहुत ज्यादा चालाक होती है, क्योकि हमारा खून चूसने के लिए वो बाल जितना महीन डंक हमारे शरीर में उतार देती है. शरीर मच्छर के लार को ऐसे केमिकल की तरह लेता है जो शरीर के लिए जरूरी नहीं. यह शरीर के लिए विष का काम करता है. शरीर का इम्युन सिस्टम इसे तुरंत बाहर निकालने का फैसला करता है. इसके लिए इम्युन सिस्टम का एक संकेत दिमाग को जाता है जिससे तुरंत शरीर में केमिकल रिएक्शन होता है और मच्छर के काटने वाली जगह पर खुजली होने लगती है.
  • हर कोई जानता है कि ताश के पत्तों में 4 राजा होते हैं. लेकिन एक बात जो कम ही लोगों को पता होती है वो ये कि इनमे से तीन राजाओं के तो मूँछें होती हैं लेकिन एक की नहीं होती… और वो राजा होता है King of Hearts. British newspaper The Guardian के अनुसार शुरू में इस राजा के भी मूछें होती थीं, लेकिन एक बार जब कार्ड्स को रिडिजाइन किया जा रहा था तब डिज़ाइनर उसकी मूंछे बनाना भूल गया और तबसे किंग ऑफ़ हार्ट्स बिना मूंछों वाला राजा हो गया. शायद आपने कभी ध्यान ना दिया हो उनमे से तीन राजाओं की मूंछे होती हैं
  • क्या आपको पता है कि ऊँटो की 1,2 नहीं बल्कि 3 पुतलीया होती है इनमें से 2 पुतलीयो पर आई लेशेस (eye laches) होती है जो उन्हें रेत से बचाती है और तीसरी पुतली (windshield wiper) का काम करती है जो ऊँट के आंख को साफ करने में मदद करती है ये ऊँटो के आंखों में ऊपर से नीचे के बजाय आंख की एक तरफ से दूसरी तरफ में खुलती है और ये पुतली बहुत ही पतली भी होती है जिनके मदद से ऊँट रेतीले तूफान में भी अपनी इस पतली सी पुतली से अपने आंखों को ढक लेता है और फिर भी अपना रास्ता देखने में सक्षम रहता है
  • कुछ लोग weight बढ़ने से बड़े परेशान होते हैं…. लेकिन आपको जानकार आश्चर्य होगा कि एक ऐसा भी बच्चा होता है जिसका वजन रोज 2-4 किलो नहीं बल्कि 90 किलो बढ़ जाता है… वो बच्चा होता है blue whale का जो अपने पहले साल में हर रोज 90 kg भारी होता जाता है. और एक एडल्ट ब्लू व्हेल का वजन 1.4 lacs kg तक हो सकता है.
  • नीदरलैंड के The Hague शहर में सिर्फ इसलिए एक ब्रिज का निर्माण किया गया ताकि गिलहरियाँ बिना किसी खतरे के हाइवे पार कर सकें. इस ब्रिज को बनाने में लगभग 1 करोड़ 8 लाख रुपये लगे.

हालांकि, प्रकृति को पसंद करने वाली गिलहरियों को ये man made structure कुछ रास नहीं आया और पिछले आठ सालों में गिलहरियों ने इसका इस्तेमाल नहीं के बराबर किया है. खैर जो भी हो वहां के सरकार की सेंसिटिविटी की तारीफ तो करनी ही होगी.

  • अगर आपसे पुछा जाए कि दुनिया की सबसे ज्यादा प्रिंट होने वाली बुक कौन सी है तो शायद आप बाइबिल, क़ुरान, गीता या फिर हैरी पॉटर के बारे में सोचें. लेकिन आपको जान कर आश्चर्य होगा कि Furniture और home accessories बेचने वाले IKEA store का कैटलॉग दुनिया में सबसे अधिक प्रिंट होने वाली बुक का रिकॉर्ड रखता है. लगभग 2 दर्जन भाषाओं में इसकी हर साल 20 करोड़ प्रतियाँ छपती हैं.
  • Password एक unique कोड होता है जिसे हम चीजों को सरक्षित रखने के लिए इस्तेमाल करते हैं..ऐसे में ideally हर किसी का पासवर्ड अलग-अलग होना चाहिए….लेकिन एक रिसर्च में इस बात का दावा किया गया है कि दुनिया में करीब दो करोड़ लोगों का एक ही पासवर्ड है। और वह है-‘123456’. रिसर्च के मुताबिक, जागरुकता की तमाम कोशिशों के बावजूद लोग आसान पासवर्ड रखकर साइबर हमलों का शिकार हो जाते हैं.

123456 के बाद दूसरे नंबर पर ‘123456789’ का इस्तेमाल किया गया। इनके अलावा टॉप पांच पासवर्ड में ‘क्यूडब्ल्यूईआरटीवाई’, ‘पासवर्ड’ और ‘1111111’ भी शामिल रहे। यह सभी पासवर्ड आसानी से हैक किए जा सकते हैं। इसलिए अगर आप भी ऐसा ही कोई पासवर्ड यूज करते हों तो फ़ौरन उसे बदल दें.

- Advertisement -

Latest News

PM मोदी से आम आदमी कैसे कर सकता है बात? जाने नंबर, एड्रेस से लेकर ईमेल आईडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इतने लोकप्रिय हैं कि उनके सोशल मीडिया साइट्स पर करोड़ो फॉलोवर्स हैं. ऐसे में उनसे जुड़े...

अन्य आर्टिकल पढ़ें...