जुमे की नमाज के बाद यूपी में हिंसक प्रदर्शन, दंगाईयों पर लगेगा गैंगस्टर एक्ट, एक्शन में सीएम योगी!

ज़रूर पढ़ें

कल शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद दिल्ली,उत्तरप्रदेश सहित देश के 13 राज्यों में प्रदर्शन के आड़ में हिंसा और पत्थरबाजी की गई. दंगाईयों ने भारी उपद्रव किया और सरकारी सम्पति को नुकसान पहुंचाया. प्रयागराज, सहारनपुर, मुरादाबाद जैसे कई इलाकों में पत्थरबाजी और आगजनी देखने को मिल गई.सहारनपुर, फिरोजाबाद, मुरादाबाद और अम्बेडकनरनगर जिलों में हालत को समय रहते सख्ती से काबू कर लिया गया, वहीं प्रयागराज में दंगाइयों ने भारी उपद्रव किया. हिंसक घटनाओं पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रशासन को कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. अब तक विभिन्न जिलों से 227 उपद्रवी गिरफ्तार किए जा चुके हैं.

रिपोर्ट्स के मुताबिक सबसे अधिक 70 गिरफ्तारियाँ गिरफ्तारी प्रयागराज में हुई है. हाथरस में 50, अंबेडकरनगर से 28, मुरादाबाद में 25, सहारनपुर में 48 और फिरोजाबाद में 8 की गिरफ्तारी हुई है. पुलिस CCTV फुटेज और इलेक्ट्रानिक्स सबूतों के आधार पर धर-पकड़ में लगी हुई है. ADG लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार के मुताबिक उपद्रवियों पर गैंगस्टर एक्ट लगाया जाएगा. हिंसा में हुए नुकसान की वसूली भी दंगाइयों से की जाएगी.

- Advertisement -

मुख्यमंत्री के आदेश पर गृह विभाग ने सभी जिलों से हालात पर रिपोर्ट तलब की है. योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि अराजकता किसी स्थिति में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. UP के गृह विभाग ने युवाओं को सड़कों पर बेवजह घूमने से मना किया है.

जानकारी के मुताबिक हिंसा से सबसे अधिक प्रभवित प्रयागराज रहा.यहाँ पथराव में ADG का गनर घायल हो गया। खुद जिलाधिकारी को चोटें आईं। हिंसा मुस्लिम बहुल कहे जाने वाले करेली क्षेत्र में हुई. यहाँ PAC का ट्रक जला दिया गया.यहाँ पथराव के लिए नाबालिग लड़कों को आगे किया गया था. पुलिस उन्हें समझाने का प्रयास कर रही थी कि छतों से पत्थरबाजी शुरू हो गई थी.

वहीं UP के अम्बेडकरनगर जिले में अलीगंज थानाक्षेत्र की तलवापार मस्जिद के आगे पुलिस पर पथराव हुआ. पथराव के बाद पत्थरबाज भाग निकले. अम्बेडकरनगर के एडिशनल SP के मुताबिक पथराव के लिए नवयुवकों को आगे किया गया था.यहाँ पुलिस द्वारा AIMIM के जिलाध्यक्ष को हिरासत में लेने की खबर है.

- Advertisement -

इसके साथ सहारनपुर, फ़िरोज़ाबाद, मुरादाबाद और हाथरस में प्रदर्शन के लिए जमा हो रहे प्रदर्शनकारियों को किसी हंगामे से पहले ही पुलिस ने बल प्रयोग कर तितर-बितर कर दिया.

अब जानकारी के लिए बता दें कि आज यूपी के प्रयागराज, मुरादाबाद, सहारनपुर में नूपुर शर्मा के बयान के खिलाफ जमकर बवाल काटा गया था. हजारों की संख्या में सड़क पर प्रदर्शनकारियों ने पथराव भी किया और सरकारी संपत्ति को नुकसान भी पहुंचाई. कई जगहों पर प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा, आंसू गैस के गोले भी दागे गए. हर कीमत पर स्थिति को नियंत्रण में करने पर जोर रहा. हिंसक घटनाओं के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक मीटिंग की थी. उस मीटिंग में सभी सीनियर पुलिस अधिकारी मौजूद रहे. स्पष्ट निर्देश दिए गए कि किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जाए और तुरंत शांति व्यवस्था कायम की जाए

वैसे यूपी के अलावा रांची में भी भारी बवाल देखने को मिला है. वहां पर भी बड़े स्तर पर आगजनी और पथराव देखा गया है. स्थिति को काबू में करने के लिए प्रशासन ने पूरे रांची में ही कर्फ्यू लगा दिया है. इसी तरह हावड़ा में विरोध प्रदर्शन के बाद बंगाल सरकार ने 13 जून तक के लिए इंटरनेट को सस्पेंड कर दिया है. वहां चार ट्रेनों को कैंसिल करने की नौबत भी आ गई है. इस पूरे विवाद पर मुख्तार अब्बास नकवी ने बड़ा बयान दिया है. उनके मुताबिक किसी एक की गलती के लिए सभी को सजा नहीं दी जा सकती है. वे कहते हैं कि एक चीज मैं साफ कहना चाहता हूं ये मुल्क हमारा भी है उनका भी है. एक व्यक्ति की सज़ा आप पूरे मुल्क को देंगे क्या? देश के माहौल को ख़राब करने की कोशिश की जा रही है. कुछ लोग मोहरा बनके काम कर रहे हैं. भोले भाले लोग को मोहरा बनाके उनका इस्तेमाल किया जा रहा है. मेरी सबसे अपील की है की सभी धर्मों का सम्मान करे.

- Advertisement -

Latest News

PM मोदी से आम आदमी कैसे कर सकता है बात? जाने नंबर, एड्रेस से लेकर ईमेल आईडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इतने लोकप्रिय हैं कि उनके सोशल मीडिया साइट्स पर करोड़ो फॉलोवर्स हैं. ऐसे में उनसे जुड़े...

अन्य आर्टिकल पढ़ें...