Varanasi में रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर के आखिरी दिन बोले केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान- ‘नौजवानों को जॉब सीकर नहीं जॉब क्रिएटर बनना होगा’

ज़रूर पढ़ें

इस कार्यक्रम में देश के प्रमुख 40 विश्वविद्यालय, डीम्ड यूनिवर्सिटी, प्राइवेट यूनिवर्सिटी ऐसे 5-6 प्रकार की यूनिवर्सिटी समेत हायर एजुकेशन के 380 इंस्टीट्यूशन को आमंत्रित किया गया था. जहां लगभग 350 जगह से लोग शामिल हुए

उत्तरप्रदेश के वाराणसी में फिलहाल रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर में तीन दिवसीय अखिल भारतीय शिक्षा समागम चल रहा है. आज आखिरी दिन था. ऐसे में केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान शामिल हुए. उन्होंने कई अहम् बातों पर लोगों का ध्यान केंद्रित किया. यहां समापन के दिन भारी संख्या में लोग मौजूद रहे. वहीँ वरिष्ठ लोगों कि उपस्थिति में शिक्षा पर बात हुई.

- Advertisement -

जानकारी मुताबिक इस कार्यक्रम में देश के प्रमुख 40 विश्वविद्यालय, डीम्ड यूनिवर्सिटी, प्राइवेट यूनिवर्सिटी ऐसे 5-6 प्रकार की यूनिवर्सिटी समेत हायर एजुकेशन के 380 इंस्टीट्यूशन को आमंत्रित किया गया था. जहां लगभग 350 जगह से लोग शामिल हुए.

इस मौके पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि तीन दिवसीय कार्यक्रम में मल्टीडिसीप्लिनरी, भारतीय भाषा, रिसर्च इनोवेशन, एंटरप्रेन्योरशिप, स्किल डेवलपमेंट समेत कई विषयों पर चर्चा हुई. इस कार्यक्रम का फीडबैक सबसे लिया जाएगा. प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में कहा था कि भारत के मूल विचार के इतर मैकाले के कॉलोनियल राज का विस्तार करना जैसे उद्देश्यों से शिक्षा बनाई गई थी. जिस तरह के संशोधन की आवश्यकता होने चाहिए थी. नई शिक्षा नीति नई संस्कृति लाने के लिए अप्रोच में लाई गई. यह पहला टेकअवे है.

उन्होंने आगे कहा कि काशी गुरु-शिष्य परंपरा की अनन्य जगह है. भारत की शिक्षा व्यवस्था छात्र आधारित होगी. यह शिक्षकों के द्वारा होगी अगला टेकअवे है. भारत के नौजवानों को अकेले शिक्षा नीति के जरिए नौकरी दिलाने वाली शिक्षा नीति बनाई गई थी, लेकिन अभी हम को 21वीं सदी में 5 ट्रिलियन इकोनॉमी बनानी है और विश्व को नेतृत्व देना है तो नौजवानों को जॉब सीकर नहीं बल्कि जॉब क्रिएटर बनना होगा.

- Advertisement -

ऐसे में केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कई और अहम् बातों पर शिक्षा की महत्वता को समझाने कि कोशीश कि साथ हीं केंद्रीय मंत्री ने वाराणसी नगरी कि जमकर तारीफ भी की.

- Advertisement -

Latest News

PM मोदी से आम आदमी कैसे कर सकता है बात? जाने नंबर, एड्रेस से लेकर ईमेल आईडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इतने लोकप्रिय हैं कि उनके सोशल मीडिया साइट्स पर करोड़ो फॉलोवर्स हैं. ऐसे में उनसे जुड़े...

अन्य आर्टिकल पढ़ें...