Umesh Pal: उस्मान चौधरी एनकाउंटर में ढेर, रवि किशन ने CM योगी की चेतावनी दोहराई

ज़रूर पढ़ें

क्राइम ब्रांच के साथ मुठभेड़ में आरोपी उस्मान चौधरी मारा गया है. इस एनकाउंटर के बाद गोरखपुर के बीजेपी सांसद रवि किशन ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का ‘मिटा में मिला देंगे’ बयान दोहराया

उत्तर प्रदेश (Uttarpradesh) के प्रयागराज में उमेश पाल शूटऑउट (Umesh Pal Case) केस में यूपी पुलिस को बड़ी कामयाबी हासिल हुई है. यहां उमेश (Umesh Pal) पर गोली चलाने वाला पहला शख्स विजय उर्फ़ उस्मान चौधरी (Usman Chaudhary) एनकाउंटर ढेर हो गया है. प्रयागराज के कौंधियारा इलाके में आरोपी बदमाश और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई थी. क्राइम ब्रांच के साथ मुठभेड़ में आरोपी उस्मान चौधरी मारा गया है. इस एनकाउंटर के बाद गोरखपुर के बीजेपी सांसद रवि किशन ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का ‘मिटा में मिला देंगे’ बयान दोहराया.

- Advertisement -

एनकाउंटर में ढेर उस्मान

रिपोर्ट्स के मुताबिक उमेश पाल (Umesh Pal) को सबसे पहले गोली मारने वाला उस्मान ही था. आज उमेश पाल (Umesh Pal) शूटआउट का दसवां दिन है. प्रयागराज पुलिस और STF लगातार छापेमारी कर रही है. जानकारी के अनुसार, पुलिस एनकाउंटर में विजय उर्फ उस्मान चौधरी घायल हो गया था. उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, जहां उसकी मौत हो गई.

50 हज़ार का इनामी बदमाश था उस्मान

शूटर उस्मान (Usman Chaudhary) पर 50 हजार रुपये का इनाम भी रखा गया था. बता दें कि इस मामले में यह दूसरा एनकाउंटर है. इससे पहले आरोपी अरबाज भी पुलिस की गोली से मारा गया है.

रवि किशन ने याद दिलाई CM योगी की चेतावनी

बीजेपी सांसद रवि किशन ने सोमवार को इस घटना की जानकारी ट्विटर पर शेयर की. उन्होंने ट्वीट किया, पूज्य महाराज @myogiadityanath (योगी आदित्यनाथ) जी ने कहा था न कि मिट्टी में मिला देंगे. उमेश पाल (Umesh Pal) और संदीप निषाद पर पहली गोली चलाने वाला खूं*र फरार हत्य*रा उस्मान (Usman Chaudhary) भी आज #up पुलिस द्वारा एनकाउंटर में ढेर..”

- Advertisement -

अरबाज भी हो चूका है ढेर

बीते सोमवार को पुलिस ने उमेश पाल (Umesh Pal) के शूटआउट में शामिल आरोपी अरबाज (Arbaz) का भी एनकाउंटर किया था. शूटरों ने जिस क्रेटा गाड़ी से उमेश पाल (Umesh Pal) पर हमला किया था. उसे अरबाज ही चला रहा था.

बीते सोमवार को पीपल गांव क्षेत्र में अरबाज (Arbaz) के होने की सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी की थी. इस दौरान पुलिस को देखकर अरबाज (Arbaz) ने फायरिंग की और जवाबी फायरिंग में अरमान को ढेर कर दिया. मुठभेड़ में धूमनगंज इंस्पेक्टर के दाहिने हाथ में भी गोली लगी थी.

क्या है मामला

यूपी (UP) के प्रयागराज के बहुचर्चित बहुजन समाज पार्टी के विधायक राजू पाल (Raju Pal) का मामला सबसे ज्यादा चर्चा में रहा था. जिनकी 2005 में मार दिया गया था. जिसमें मृतक उमेश पाल (Umesh Pal) मुख्य गवाह था. लेकिन बीते सप्ताह उसे और उसके सुरक्षाकर्मी संदीप निषाद (Nishaad) को गोली मार दी गई थी. उमेश पाल (Umesh Pal) इसी के मुख्य गवाह था. राजू पाल (Raju Pal) मामलें में मुख्य आरोपी माफिया अतीक अहमद (Atik Ahmad) आरोपी है और फिलहाल गुजरात में जेल में बंद है.

- Advertisement -

Latest News

PM मोदी से आम आदमी कैसे कर सकता है बात? जाने नंबर, एड्रेस से लेकर ईमेल आईडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इतने लोकप्रिय हैं कि उनके सोशल मीडिया साइट्स पर करोड़ो फॉलोवर्स हैं. ऐसे में उनसे जुड़े...

अन्य आर्टिकल पढ़ें...