मोहन भागवत-सीएम योगी आदित्यनाथ की नहीं हुई मुलाकात, जाने वजह !

ज़रूर पढ़ें

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सर संघ चालक मोहन भागवत के गोरखपुर दौरे पर रहे वो  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बिना मिले चले गए

उत्तरप्रदेश : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सर संघ चालक मोहन भागवत 12 जून से 17 जून तक गोरखपुर दौरे पर रहे लेकिन बिना मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिले चले गए. ये पहली बार हुआ जब दोनों की दूरियां दिखी. मोहन भागवत छठी बार गोरखपुर पहुंचे थे. संभावना थी की मुख्यमंत्री योगी गोरखपुर स्थित एसवीएम पब्लिक स्कूल में चल रहे शिविर में पहुंचकर मोहन भागवत से मिलेंगे. हालांकि ऐसा नहीं हुआ.

- Advertisement -

RSS प्रमुख की नहीं हुई मुलाकात!

दरअसल मोहन भागवत इन दिनों अपने उस बयान की वजह से चर्चा में है जहाँ उन्होंने बीजेपी सरकार को नसीहत दी जबकि मणिपुर पर चिंता जताया था. ऐसे में 5 दिनों के अंदर अंदेशा लगाया गया की दोनों की मुलाकात बीजेपी और आरएसएस के बीच कथित तौर पर चल रहे खींचतान में पुल का काम करेगा पर ये सिर्फ चर्चा का विषय बनके रह गया.

दरअसल योगी गोरखपुर पहुंचे लेकिन वो एनेक्सी भवन में गोरखपुर मंडल के अपने सांसद-विधायकों के साथ बैठक की. जबकि बाद में वो हेलीकाप्टर से ऋषिकेश रवाना हुए और अस्पताल में अपनी मां से मिलने पहुंचे.

मीटिंग क्यों हुई स्थगित?

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक दोनों की मीटिंग की टाइमिंग मैच नहीं हो पा रही थी. इस मीटिंग की टाइमिग दो बार बदली गई. हालांकि बाद में  बैठक स्थगित की गई है. बता दें कि मोहन भागवत ने उत्तरप्रदेश के दौरे पर संघ से जुड़े लोगो से बातचीत में नड्डा के उस बयान पर प्रतिक्रिया दी जब बीजेपी के राष्ट्रिय अध्यक्ष ने कहा था की,  पार्टी तेजी से आगे बढ़ रहा है. अब बीजेपी उस स्थिति में पहुंच गई है कि उसे संघ की जरूरत नहीं है. अपने दम पर पर सक्षम हैं. ऐसे में उन्होंने कहा की ये उनके बयान व्यक्तिगत राय है.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...