हिजाब पहनी नेता ने मर्दो को दी सलाह- बीबी जिद्द करे तो उसके साथ 3 दिन तक मत सोना और तभी ना माने तो कर दो उसकी पिटाई

ज़रूर पढ़ें

पति पहले अपनी जिद्दी पत्नियों के साथ बात करके उन्हें अनुशासित करें. अगर उनकी पत्नियाँ फिर भी अपना व्यवहार नहीं बदलती हैं, तो पति तीन दिनों तक उनके साथ नहीं सोएँ

कर्नाटक राज्य में हिजाब विवाद का मामला दिसंबर 2021 में शुरू हुआ जिसकी आंधी धीरे धीरे कर अब हर शहर तक पहुंच चुकी है. धर्म के आड़ में खेल खेल वाले तथाकथित राजनीतीक धुरंधर जमकर हिजाब विवाद को उछाल रहे हैं.

- Advertisement -

छात्राओं की मांग है की उन्हें यूनिफार्म को नहीं बल्कि हिजाब पहनकर हीं क्लास में आना है, जबकि इस मामले में स्कूल और कॉलेज प्रशासन शिक्षा के मंदिर में यूनिफार्म को अहमियत देने की बता कह रही है.


हर तरफ विवाद चल रहा है, इस बिच एक हिजाब पहनी महिला जो एक मंत्री है, उनके बयानों की जमकर चर्चा हो रही है जो विशेष तरीके की सलाह देने का काम कर रहीं हैं.

पैन इस्लामिक मलेशियन पार्टी की सांसद सिती जैला मोहम्मद युसॉफ मर्दो को टिप्स देते हुये कह रही हैं की अगर उनकी औरते उचित व्यव्हार नहीं करतीं या किसी तरीके की जिद करती हैं तो, उन्हें काबू करने के लिए उनके साथ 3 दिन तक नहीं सोना चाहिए जबकि उनकी पिटाई भी करनी चाहिए.

- Advertisement -

हिजाब पहनी सांसद का कहना हैं की महिलाओं को अपने शौहर से पूछ कर हीं बोलना चाहिए. जी हाँ सिती जैला मोहम्मद युसॉफ एक तथाकथित पढ़ी लिखी सांसद हैं, जिनसे ख़ास तौर पर महिलाओं को ये उम्मीद है की एक महिला सांसद होने के चलते वो हक़ की बात करेंगी, औरतो के सम्मान की आवाज बनेंगी.

सिती जैला मोहम्मद युसॉफ

वहीँ मलेशियन पार्टी की सांसद सिती जैला मोहम्मद युसॉफ ऐसी विवादित बयान दे चुकी हैं, की कई तरीके के सवाल उठ रहे हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दे की मलेशिया की सांसद सिती जैला महिला, परिवार और सामुदायिक विकास विभाग की उपमंत्री हैं, जहाँ उन्होंने सोशल साइट के अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम पर दो मिनट का एक वीडियो बनाकर साझा किया, जिसमे उन्होंने मर्दो और औरतों को सलाह देते हुये मलेशियाई भाषा का इस्तेमाल कर रहीं हैं, जिसका हिंदी अनुवाद आपको हम बताते हैं.


महिला सांसद ने अपने वीडियो में कहा- पति पहले अपनी जिद्दी पत्नियों के साथ बात करके उन्हें अनुशासित करें। अगर उनकी पत्नियाँ फिर भी अपना व्यवहार नहीं बदलती हैं, तो पति तीन दिनों तक उनके साथ नहीं सोएँ। सिती जैला ने आगे कहा कि इसके बावजूद अगर पत्नी सलाह लेने से इनकार करती है या अलग सोने के बाद भी अपना व्यवहार नहीं बदलती हैं, तो पति सख्ती दिखाए. वे अपनी पत्नियों की पिटाई करें.

उनके इस वीडियो के बाद उन पर घरेलू हिंसा (Domestic Violence) को सामान्य करने का आरोप लगाया जा रहा है। लोगों का कहना है कि वह मर्दों को अपनी पत्नियों को पीटने के लिए कहकर घरेलू हिंसा को बढ़ावा दे रही हैं.


ऐसे में सिती जैला औरतों को सलाह देते हुये कहती हैं की अगर वे पतियों का दिल जीतना चाहती हैं, तो वे अपने शौहर के कहने पर ही बातचीत करें. सिती ने महिलाओं से कहा कि अपने शौहर से तब बात करें जब वे शांत हों, खाना खा चुके हों, प्रार्थना कर चुके हों और आराम कर रहे हों.

उनका कहना था कि जब वह बोलना चाहती हैं, तो पहले अपने शौहर से इजाजत लें। मलेशिया की मंत्री की इन बयानों को लेकर उनकी हर तरफ आलोचना हो रही है और कई संगठनों ने कहा है कि उन्हें अब अपने पद से इस्तीफा देना चाहिए.


मौजूदा समय में सिती जैला मोहम्मद युसॉफ के इन उनकी खूब आलोचना हो रही है, ख़ास तौर पर महिलाओं में ख़ासा आक्रोश है.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...