बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली आज माना रहे है अपना 50वा जन्मदिन

ज़रूर पढ़ें

टीम इंडिया को 20 साल बाद वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचाया, पाकिस्तान को उनके घर में दी थी मात ….. भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और मौजूदा समय में बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली आज अपना 50वां जन्मदिन मना रहे हैं. गांगुली का जन्म आज ही के दिन 8 जुलाई 1972 को पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में हुआ था. सौरव गांगुली के पिता का नाम चंडीदास और मां का नाम निरूपा गांगुली है.गांगुली ने अंडर-19 क्रिकेट से लेकर सीनियर टीम तक अपना परचम लहाराया. क्रिकेट जगत में सौरव गांगुली के चाहने वाले लोग उन्हें प्यार से ‘दादा’ कहते हैं. भारत के सबसे सफल कप्तानों में शुमार गांगुली ने 2000 में टीम की कप्तानी संभाली थी। कप्तान बनने के बाद उन्होंने टीम इंडिया को विदेशी पिचों पर जीतना सिखाया था। भारत में आक्रमक क्रिकेट की शुरुआत सौरव गांगुली ने की जिन्होंने 2000 के दशक में टीम इंडिया के खेलने की मानसिकता पर काफी काम किया। सौरव गांगुली को साल 2000 के एक बड़े मैच फिक्सिंग कांड के बाद भारतीय टीम की कमान मिली। ये वो दौर था जब भारतीय क्रिकेट अपने सबसे खराब दौर में फंस चुका था, यहां से निकलना इतना आसान नहीं था लेकिन सौरव गांगुली के इरादें ही कुछ और थे, देखते ही देखते भारतीय क्रिकेट टीम की मानसिकता को ही बदल दिया। जो भारतीय टीम देश से बाहर निकलने पर घबरा जाया करती थी, जो केवल अपना बचाव करने के लिए खेलती थी, उस टीम में जीत का ऐसा जोश भर दिया कि टीम ने भारत से बाहर चैंपियन अंदाज में जीतना शुरू कर दिया। सौरव गांगुली ऐसे कप्तान थे जिन्होंने अपनी टीम को विपक्षी की आंख में आंख डालकर मैच जीतना सिखाया।उन्होंने एक अंडरकॉन्फिडेंट टीम इंडिया की कमान संभाली और उसे ऊंचाइयों तक पहुंचाया था।

- Advertisement -

उनकी कप्तानी में भारत को मिले सबसे यादगार पल की बात करे तो गांगुली की अगुवाई में भारतीय ने कई ऐतिहासिक मुकाबले अपने नाम किए. भारतीय टीम ऑस्ट्रलिया में वनडे टूर्नामेंट जीता. इंग्लैंड में नेटवेस्ट ट्रॉफी पर कब्जा जमाया. यही नहीं भारतीय टीम साल 2005 में पाकिस्तान को भी टेस्ट सीरीज में धूल चटाने में कामयाब रही थी.भारत की साल 2001 में इंग्लैंड में मिली नेटवेस्ट सीरीज जीत को कभी भुलाया नहीं जा सकता है। नेटवेस्ट सीरीज का फाइनल मुकाबला ऐतिहासिक क्रिकेट ग्राउंड लॉर्ड्स में खेला जा रहा था. इस मुकाबले में जैसे ही भारतीय टीम ने 2 विकेट से मुकाबला अपने नाम किया गांगुली ने अपनी जर्सी उतारकर हवा में लहराते हुए जीत का जश्न मनाया. क्रिकेट इतिहास में गांगुली के इस सेलिब्रेशन स्टाइल को कोई नहीं भूल सकता है. पूर्व भारतीय कप्तान का इस बारे में कहना है कि वह ऐसा नहीं करना चाहते थे, लेकिन इंग्लिश टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी एंड्रयू फ्लिंटॉफ ने भारतीय दौरे पर जिस तरह से जर्सी उतारकर जश्न मनाया था, वह बस उनका जवाब देना चाहते थे.

सौरव गांगुली का दूसरा नाम ही दादा था, तो वहीं उन्होंने अपने पूरे करियर के दौरान दादागिरी का खास नमूना पेश किया है साल 2001 में ऑस्ट्रेलियाई टीम भारतीय दौरे पर थी. यहां एक मुकाबले में टॉस के लिए उस समय के विपक्षी कप्तान स्टीव वॉ को गांगुली ने इंतजार कराया था. दरअसल वॉ टॉस के लिए मैदान में काफी पहले आ चूके थे, जबकि गांगुली कुछ देर बाद मैदान में आए. गांगुली ने हलाकि इस बात क़ुबूल लिया था की मैदान में देर से आने की गलती जानबूझकर की थी. वह ऑस्ट्रेलियाई टीम को सबक सिखाना चाहते थे. गांगुली के अनुसार उस समय के ऑस्ट्रेलियाई कोच जॉन बुकानन ने भारतीय टीम के तेज गेंदबाज श्रीनाथ के साथ गलत तरीके से बात की थी. इसी का बदला लेने के लिए उन्होंने यह काम किया था.

- Advertisement -

बता दें गांगुली ने भारतीय टीम के लिए इंटरनेशनल क्रिकेट में 424 मैच खेलते हुए 18575 रन बनाए हैं. इसके अलावा उन्होंने इतने ही मुकाबलों में 132 विकेट भी चटकाए हैं. गांगुली ने टेस्ट क्रिकेट में 113 मैच खेलते हुए 188 पारियों में 42.2 की औसत से 7212 और वनडे में 311 मैच खेलते हुए 300 पारियों में 41.0 की औसत से 11363 रन बनाए हैं. इसके अलावा उनके नाम टेस्ट क्रिकेट में 32 और वनडे में 100 विकेट दर्ज है.

भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे सफल कप्तानों का जब भी जिक्र किया जाएगा उसमें सौरव गांगुली के नाम की चर्चा जरूर होगी। क्रिकेट के अलावा बंगाल टाइगर के नाम से मशहूर सौरव की लाइफस्टाइल भी काफी चर्चा में रहती है।रिपोर्टस के मुताबिक पैसे और शोहरत दोनों में दादा का कोई तोड़ नहीं है। आलीशान घर, लग्जरी गाड़ियां और कुल संपत्ति, सौरव गांगुली को भारत के सबसे अमीर क्रिकेटरों में से एक बनाती है। सौरव की कुल संपत्ति लगभग 416 करोड़ की है। राजशाही जीवन जीने वाले सौरव गांगुली के पास कई सारी बेशकीमती चीजें भी हैं।बंगाल टाइगर के नाम से मशहूर सौरव गांगुली के पास लग्जरी गाड़ियों का भी कलेक्शन है।

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...