Gujrat के सोहिल हुसैन ने चाकू के दम पर हिन्दू परिवार को धमकाया, कहा- ‘तुम सब चले जाओ, ये जगह पाकिस्तान बनेगी’

ज़रूर पढ़ें

जिस तरीके की पोस्ट पर रोका जा रहा है वो ऐसे पोस्ट भेजते रहेंगे. उसने कहा “ये नया पाकिस्तान बन गया है. यहाँ सब मुस्लिम हैं. हिंदुओं को यहाँ से चले जाना चाहिए”

गुजरात के राजकोट से एक मुस्लिम वकील पर संगीन आरोप लगे हैं, जिसने इलाके में चर्चा का विषय बना दिया है. आरोप है की मुस्लिम धर्म से ताल्लुक रखने वाले व्यक्ति ने हिन्दू परिवार को धमकी देते हुये बेहद हीं भयानक घटना को अंजाम दे दिया है.

- Advertisement -


सोहिल हुसैन मोर (Sohil Hussain Mor) नामक गुजरात के वकील को लेकर राजकोट में आस पास के लोगो ने बेहद संगीन आरोप लगाए हैं.


आरोप अनुसार बीते रविवार (20 फरवरी 2022) को जब इलाके के श्यामा प्रसाद मुखर्जी नगर आवास के पास शाम के समय हंगामा हुआ तो भारी भीड़ लगी, घटना की बात जानकारी सामने आई की मोर ने अपनी सोशल मीडिया के मैसेंजिंग एप्प वॉट्सऐप की डीपी पर भी आई सपोर्ट हिजाब लगा रखा है.


सोहिल हुसैन मोर ने कथिततौर पर वॉट्सऐप ग्रुप में छत्रपति शिवाजी महाराज के ऊपर आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल कर शेयर किया था. यहां इस WHATSAPP ग्रुप की सदस्य का नाम ज्योति सोढा हैं.

- Advertisement -


उन्होंने ने जब इस मुद्दे पर आवाज उठाई और मोर को कॉल करके अपनी नाराजगी व्यक्त की और बताया की किस कदर ये अपमानजनक सन्देश था. ऐसी में मोर ने उन्हें जवाब में कहा, “ये देश पाकिस्तान बन गया है और तुम लोगों को देश छोड़कर चला जाना चाहिए.”


ऐसे में ज्योति की तरफ बयान में बताया गया की बीते रविवार को जब मुस्लिम वकील से बात करने गईं तो मोर बेहद आक्रामक रवैया दिखा रहा था और उन्हें चाकू से मारने की धमकीदे डाली। इसके बाद सोहिल हुसैन ने जमकर हंगामा मचाया जबकि उसने भगवान गणेश की मूर्ति भी तोड़ दी.


मौजूदा समय में एक रिकॉर्डिंग की बात सामने आई जहाँ ऑडियो रिकॉर्डिंग में मोर ने महिला से गु्स्से में कहा कि जिस तरीके की पोस्ट पर रोका जा रहा है वो ऐसे पोस्ट भेजते रहेंगे। उसने कहा “ये नया पाकिस्तान बन गया है। यहाँ सब मुस्लिम हैं। हिंदुओं को यहाँ से चले जाना चाहिए.”

जब महिला ने हैरानी से पूछा कि आखिर वो ऐसी बातें क्यों कर रहा है तो मोर ने फिर कहा, “जो है वो है। यहाँ से अब जाओ.”


इन सब में इलाके के उसी सोसायटी में रहने वाले शख्स ने मिडिया को जानकारी देते हुये बताया की इस प्रकार की बयानबाजी उस व्यक्ति की तरफ से आई है जो खुद एक पढ़ा लिखा वकील है.

जिसने अच्छी पढाई की है. हंगामे के समय जिस वक़्त सोहिल हुसैन हंगाम करते हुये जिस तरीके से आक्रामक रवैया दिखा रहा था.

वहां मौजूद चश्मदीदों ने कहा कि, “वो हमेशा हमारे साथ नॉर्मल रहता था। लेकिन कुछ समय से उसने कट्टरपंथियों वाले शब्द प्रयोग करने शुरू कर दिए और अपनी वेषभूषा भी बदल दी। उसने भगवान के फोटो फ्रेम और भगवान गणेश की प्रतिमा को तोड़ने का काम भी किया था.”


लोगो के मुताबिक सोहिल ने भगवान गणेश की हर मूर्ति को तोड़ने का काम किया। यहां स्थानीय हिंदुओं ने आशंका जताई है कि हुसैन जिस तरीके की कट्टर विचारों को जाहिर कर रहा है उसे देखकर ऐसा लगता है जैसे उसके पीछे कोई बड़ा रैकेट छुपा है. स्थानीय शख्स ने बताया की “जैसे किशन भरवड के मामले में पाकिस्तान का नाम सामने आया है…

ये कह रहा है कि ये पूरी सोसायटी को पाकिस्तान में बदल देगा और हिंदुओं को यहाँ से जाना चाहिए। तुम मुझे कब तक रोक पाओगे। मुझे सपोर्ट करने वाली बड़ी फौज है.”


मौजूदा समय में बिगड़ते स्थितियों के बिच सोहिल हुसैन मोर की हरकत देखते हुये पुलिस प्रशासन को तुरंत सूचित किया गया.

यहां मामले पर पुलिस कॉन्सटेबल ने बीचबचाव किया ताकि स्थिति को संभाल लिया जाये, लेकिन इस बिच कायदे और पेशे से वकील मोर ने पुलिस कांस्टेबल पर हीं हाथ उठा दिया, जबकि गलियां भी दी.

जहाँ कांस्टेबल रावत डांगर के शिकायत के आधार पर बीते रविवार की रात हीं यूनिवर्सिटी पुलिस स्टेशन ने सोहिल के खिलाफ धारा 295, 295 (a), 504, 135, 332 और 186 आईपीसी में केस दर्ज कर लिया गया. जिसके बाद सोमवार को वकील की गिरफ्तारी हुई.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...