SIT ने किया Teesta Setalvad और Congress के फंडिंग गेम का खुलासा, Sambit Patra ने बोला बड़ा हमला

ज़रूर पढ़ें

सीतलवाड़ 2002 में गोधरा में ट्रेन जलने की घटना के तुरंत बाद गुजरात में निर्वाचित सरकार को अस्थिर करने के लिए एक बड़ी साजिश रच रही थीं. यही नहीं इसके लिए उन्हें प्रतिद्वंद्वी राजनीतिक दल के एक बड़े नेता से वित्तीय सहायता भी मिली थी

तीस्ता सीतलवाड़ का नाम इस वक़्त ख़बरों और राजनीती में जमकर गूंज रहा है. बीजेपी खासतौर पर तीस्ता सीतलवाड़ को घेर रही है जहाँ मामला गोधरा काण्ड से है. गलत पेपर बना कर कानून के साथ खिलवाड़ करने के आरोप में तीस्ता सीतलवाड़ के साथ पूर्व आईपीएस अधिकारी श्रीकुमार को गिरफ्तार किया गया है.

- Advertisement -

ऐसे में यहां तथाकथित सामाजिक कार्यकर्त्ता तीस्ता सीतलवाड़ कि ज़मानत याचिका में एसआईटी की एफिडेविट में बड़ा खुलासा हुआ है. ऐसे में बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने हमला बोला और कहा कि तीस्ता सीतलवाड़ और अन्य ने मोदी सरकार को बदनाम करने कि पूरी कोशिश है.

SIT कि रिपोर्ट में हुआ खुलासा

दरअसल, एसआईटी ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया था कि सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ को 2002 में गुजरात सरकार को अस्थिर करने के लिए कांग्रेस से फंड मिला था. एसआईटी ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि सीतलवाड़ 2002 में गोधरा में ट्रेन जलने की घटना के तुरंत बाद गुजरात में निर्वाचित सरकार को अस्थिर करने के लिए एक बड़ी साजिश रच रही थीं. यही नहीं इसके लिए उन्हें प्रतिद्वंद्वी राजनीतिक दल के एक बड़े नेता से वित्तीय सहायता भी मिली थी.

- Advertisement -

संबित पात्रा ने किया तीस्ता और कांग्रेस का घेराव

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और तीस्ता सीतलवाड़ पर बड़ा हमला बोला है. भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने मीडिया से बातचीत करते हुये कहा कि, तीस्ता सीतलवाड़ ने गुजरात सरकार को गिराने और पीएम मोदी को फंसाने के लिए जो कुछ भी किया, वह कांग्रेस के इशारे पर किया गया था. उन्होंने कहा, कांग्रेस द्वारा तीस्ता को करीब 30 लाख रुपये का भुगतान किया गया था.

बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने आगे कहा, जो कुछ भी किया वह सिर्फ गुजरात और मोदी सरकार को बदनाम करने के लिए किया गया था. यह पूरी साजिश सत्ता पाने के लिए रची गई थी. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अपनी तिजोरी से तीस्ता सीतलवाड़ को पर्सनल यूज के लिए पैसे दिए थे.

उन्होंने कहा, इस पूरे खेल को अहमद पटेल ने अंजाम दिया था, लेकिन इसके पीछे सोनिया गांधी ही थीं. दरअसल, अहमद पटेल उस समय कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार थे.

- Advertisement -

Latest News

PM मोदी से आम आदमी कैसे कर सकता है बात? जाने नंबर, एड्रेस से लेकर ईमेल आईडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इतने लोकप्रिय हैं कि उनके सोशल मीडिया साइट्स पर करोड़ो फॉलोवर्स हैं. ऐसे में उनसे जुड़े...

अन्य आर्टिकल पढ़ें...