Shivraj सरकार ने चलाया ‘Yogi बाबा का बुलडोजर’, अपराधियों की हालत हुई खराब

ज़रूर पढ़ें

मृतक राजू के परिजनों को 5 लाख देने के साथ साथ गंभीर घायलों को 2 लाख के साथ-साथ अन्य घायलों को 50-50 हजार रुपए देने का ऐलान कर दिया है

उत्तरप्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सत्ता में उनके काम पूरे देशभर में चर्चित रहते हैं. विधानसभा चुनाव में योगी आदित्यनाथ के प्रति लोगो की दीवानगी साफ़ देखी गई.

- Advertisement -

ऐसे में यूपी के भावी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बुलडोजर वाले बाबा का नाम दिया जाता है.

इस नाम के पीछे मकसद साफ़ है कि योगी सरकार माफिआओं और अपराधियों को बिलकुल भी नहीं बक्शते और उनके पापों पर बाबा का बुलडोजर दौड़ता है.

SHIVRAJ SINGH CHAUHAN IN ACTION


ऐसे में यूपी के बाद बीजेपी शासित राज्य में भी बुलडोजर का जादू चल रहा है, जहाँ मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार के अंतर्गत अपराधियों पर बुलडोजर की मार पड़ी है.

- Advertisement -

जी हाँ बीते 18 मार्च को मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के रायसेन (Raisen) जिले के खमरिया (Khamriya) गाँव में होली खेलने के दौरान दो पक्षों में जमकर हिंसक झड़प हुई.

हालात बेहद बिगड़ गए. आक्रोश ऐसा कि आदिवासी और मुस्लिम समुदाय के बीच विवाद की वजह से आस पास सनसनी फैल गई.

यहां आक्रोशित पक्षों ने गाँव के कई घरों, दुकानों समेत वाहनों को आग के हवाले कर दिया.


ऐसे में हालात ऐसे खराब हुये कि 22 वर्षीय आदिवासी नौजवान राजू को गोली लग गई जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई. जबकि 50 से अधिक लोग घायल हो गए.


इस घटना पर अब तक कुल 16 आरोपितों की पुष्टि की गई है जबकि इनमे से पुलिस ने 13 को गिरफ्तार कर लिया है जबकि 3 आरोपितों की तलाश मौजूदा समय में जारी है.


ऐसे में बिना देर किये मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक्शन में आएं और तुरंत एक्शन ले लिया। यहां जिला प्रशासन ने सांप्रदायिक हिंसा फैलाने वाले आरोपितों के खिलाफ कार्यवाई शुरी की और शुरू हुआ बुलडोजर का एक्शन.


जहाँ अतिक्रमण में बने घर-दुकानों पर बुलडोजर चला दी गई.


आपको बता दें कि जिला प्रशासन ने वन संयुक्त विभागों के साथ मिलकर पूरी कार्यवाई की जबकि अधिकारियों ने कुछ आरोपितों के घर से अवैध सागौन की कीमती लकड़ी से बना फर्नीचर भी जब्त कर अपने साथ ले गए.


इस विषय पर बुलडोजर चलवाकर अप्रधिकयों की खटिया कड़ी करने वाले सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आदिवासी समाज के साथ अन्याय सरकार बर्दाश्त नहीं करेगी.

आरोपितों के साथ सरकार सख्ती से निपटेगी। ऐसे में मुख्यमंत्री ने मृतक राजू के परिजनों को 5 लाख देने के साथ साथ गंभीर घायलों को 2 लाख के साथ-साथ अन्य घायलों को 50-50 हजार रुपए देने का ऐलान कर दिया है.


मौजुदा समय में शिवराज सरकार की सोशलमीडिए में खूब तारीफ हो रही है जबकि इस घटना पर योगी आदित्यनाथ की भी जमकर चर्चा हो रही है.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...