सचिन पायलट का ये कदम कांग्रेस पर पड़ेगा भारी, राहुल गाँधी का रास्ता होगा मुश्किल

ज़रूर पढ़ें

सचिन पायलट ने गहलोत सरकार के खिलाफ अनशन करने की भी चेतावनी दी है.पायलट सीधे तौर पर अपनी पार्टी के खिलाफ बगावत पर उतर गए हैं. जिससे कांग्रेस आलाकमान में हलचल नजर आ रही है

राजस्थान विधानसभा चुनाव में लगभग सात महीने का समय हीं बचा है. इससे पहले राजस्थान की सियासत में एक बड़ा सियासी जंग देखने को मिल रहा है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के खिलाफ पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट (Sachin Pilot) एक मुसीबत खड़ी कर चुके हैं. भ्रष्टाचार के मुद्दे को लेकर अपनी हीं कांग्रेस सरकार सीएम गहलोत के खिलाफ सचिन पायलट (Sachin Pilot) एक नई जंग छेड़ दी है. मुख्यमंत्री को आड़े हाथों लेते हुए पायलट ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपनी ही सरकार पर भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने के आरोप लगाए.

- Advertisement -

अशोक गहलोत सामने बागी सचिन पायलट

जिसके बाद पायलट (Sachin Pilot) और अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के बिच चलें इस टेंशन ने कांग्रेस पार्टी का सर दर्द बढ़ा दिया है. एक तरफ पायलट (Sachin Pilot) को अंदरूनी बातचीत की नसीहत मिल रही तो एक तरफ राजस्थान में भारी संख्या में कार्यकर्ता पायलट का साथ देते दिख रहे हैं. सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने गहलोत सरकार (Ashok Gehlot) के खिलाफ अनशन करने की भी चेतावनी दी है.

राजस्थान कांग्रेस में बटें दो गुट

पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट (Sachin Pilot) का रुख मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के लिए बिलकुल साफ़ नजर आ रहा है. पायलट सीधे तौर पर अपनी पार्टी के खिलाफ बगावत पर उतर गए हैं. भ्रस्टाचार के मुद्दे पर अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के वादों पर हमला बोलते हुए सचिन पायलट (Sachin Pilot) बागी नजर आ रहे हैं. उन्होंने मंगलवार को अपने समर्थक कार्यकर्ताओं के साथ जयपुर के शहीद स्मारक पर दिनभर अनशन करेंगे. जिसके लिए भारी संख्या में उनके समर्थकों के जुटने की आशंका है.

“कांग्रेस का नुकसान कर रहे हैं पायलट”

सचिन पायलट (Sachin Pilot) के अनशन पर बैठने की घोषणा के बाद से अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के सामने बड़ी मुसीबत आ गई है. आने वाले चुनावों में इस अंदरूनी जंग का बड़ा दुष्प्रभाव पर सकता है. राजस्थान कांग्रेस के खेमे में इसके अलग रुख हैं. जहाँ सचिन पायलट को लेकर गहलोत समर्थकों ने भी पलटवार शुरू कर दिया है. गहलोत (Ashok Gehlot) समर्थक बंजर भूमि विकास बोर्ड के अध्यक्ष संदीप चौधरी ने ट्वीट करके पायलट पर निशाना साधा है. संदीप चौधरी ने लिखा- ”घर की बात घर में होनी चाहिए, सड़क पर नहीं. सचिन पायलट को शिकायत है तो प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा या अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे से बात करनी चाहिए. ऐसा ना करके वो कांग्रेस का नुकसान कर रहे हैं.”

कपिल सिब्बल ने भी राजस्थान कांग्रेस के कलेश पर जताई चिंता

राजस्थान कांग्रेस में गहलोत (Ashok Gehlot) बनाव पायलट (Sachin Pilot) का कलह एक बार फिर बढ़ता हुआ दिखाई दे रहा है. समय समय पर दोनों हीं आमने-सामने आ जाते हैं. एक तरफ कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Khadge) और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी (Rahul Gandhi) आने वाले चुनावों में कांग्रेस की सरकार बनने का दावा करते हैं. हालाँकि जिस तरीके से राजस्थान कांग्रेस का कलेश जारी है वो कांग्रेस के लिए सही संकेत नहीं दे रहा. यहां इस महाजंग के बिच राज्यसभा सदस्य कपिल सिब्बल (Kapil Sibbal) ने सचिन पायलट को घेरते हुए बड़ा बयान दिया और कहा कि, ‘सचिन पायलट का रुख राजस्थान कांग्रेस के लिए सिरदर्द है’.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...