उदयनिधि स्टालिन पर मलेशिया में हंगामा, अमेरिकन शहर में ‘सनातन धर्म दिवस’ हुआ घोषित

ज़रूर पढ़ें

उदयनिधि स्टालिन के सनातन धर्म पर विवादित बयान को लेकर मलेशिया में बवाल मचा हुआ है. वहीँ इस पूरे विवाद के बिच अमेरिका के एक शहर में सनातन धर्म दिवस घोषित हो चूका है

उदयनिधि स्टालिन ने 2 सितंबर को अपने एक भाषण में सनातन धर्म को ख़त्म करने की बात कह चुके हैं. उनके इस भाषण का हिस्सा सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ. हालाँकि तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन के बेटे ने अबतक अपने बयान पर माफ़ी नहीं मांगी है. उन्होंने सनातन धर्म की तुलना बीमारियों से की थी. ऐसे में उनके बयान पर बीजेपी विरोध कर रही है. देशभर में उदयनिधि के खिलाफ आवाजें उठ चुकी हैं. उन्होंने कहा था कि जिस तरीके से मलेरिया, डेंगू, कोविड-19 जैसी बिमारियों का ना सिर्फ विरोध करना चाहिए. बल्कि उसे ख़त्म करना चाहिए. यह सनातन धर्म भी ऐसा ही है.

- Advertisement -

साधु संतों ने भी उदयनिधि के बयान को अपमानजनक बताया है. हालाँकि इस बिच अब उदयनिधि के बयान पर मलेशिया में भी बवाल मचा हुआ है. इसके अलावा इस पूरे विवाद के बिच अमेरिका के एक शहर में सनातन धर्म दिवस घोषित हो चूका है.

मलेशिया में उदयनिधि के खिलाफ विरोध

मलेशिया के एक हिन्दू संगठन ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन के बेटे के खिलाफ आक्रोश जताया है. हिन्दू संगठन ने मलेशिया स्थित उच्चायोग को एक निंदा पत्र लिखा है. इसमें उदयनिधि स्टालिन के बयानों की कड़ी निंदा की गई. 4 सितंबर के इस पत्र में लिखा गया की तमिलनाडु के खेल मंत्री उदयनिधि स्टालिन एक ऐतिहासिक धर्म के लोगों को नरस@हार का आह्वान कर रहे थे.

उदयनिधि का बयान अपमानजनक

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के बेटे ने अपने भाषण में हिंदुत्व, जिसे सनातन धर्म कहा जाता है. उसकी शुद्धता को तार-तार कर दिया है. उनका बयान अपमानजनक भाषण था. जहा एक मंत्री ने ऐसे धर्म के खिलाफ बोला, जिसे भारत के अधिकतर लोग मानते हैं.

- Advertisement -

कार्यवाई की मांग

पत्र में आगे लिखा गया, ‘मंत्री होने के नाते, उन्हें धर्मनिरपेक्ष होना चाहिए और पूरी पारदर्शिता के साथ अपने कार्यों का निर्वहन करना चाहिए. उन्होंने अपने भाषण से पूरी दुनिया के हिंदुओं में नफरत और गुस्से को बढ़ाया है.’ यहां पत्र में कहा गया कि उदयनिधि स्टालिन के खिलाफ मोदी सरकार से हम कार्यवाई की मांग करते हैं. गौरतलब है कि अमेरिकन रिपोर्ट्स के मुताबिक 2020 के जनगणना के अनुसार मलेशिया की कुल आबादी 3 करोड़ 39 लाख हैजिस्मे 6.1% हिन्दू आबादी है.

अमेरिकन शहर मनाएगा ‘सनातन धर्म दिवस’

भारत से लेकर मलेशिया तक उदयनिधि के सनातन पर किए विवादित बयान का विरोध हो रहा है. अभी ये मामला शांत भी नहीं हुआ की अमेरिका से एक बड़ी खबर सामने आ गई. बता दें कि अमेरिका के लुइसविले (केंटकी) शहर के मेयर की तरफ सनातन धर्म दिवस की घोषणा हुई. अब अमेरिका के इस शहर में हर वर्ष के 3 सितंबर को सनतान धर्म दिवस मनाया जायेगा.

यहां ये ऐलान लुइसवीले में हिन्दू मंदिर में महाकुम्भ अभिषेकम उत्सव के दौरान हुआ. यहां मेयर क्रेग ग्रीनबर्ग की ओर से डिप्टी मेयर बारबरा सेक्स्टन स्मिथ ने सनातन धर्म दिवस के तौर पर मनाने का आधिकारिक ऐलान किया.

- Advertisement -

Latest News

PM मोदी से आम आदमी कैसे कर सकता है बात? जाने नंबर, एड्रेस से लेकर ईमेल आईडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इतने लोकप्रिय हैं कि उनके सोशल मीडिया साइट्स पर करोड़ो फॉलोवर्स हैं. ऐसे में उनसे जुड़े...

अन्य आर्टिकल पढ़ें...