‘सेक्स-फॉर-ग्रेड’ स्कैंडल का शिकार छात्राये , हसन विश्वविद्यालय में प्रोफ़ेसर की दरिंदगी !

ज़रूर पढ़ें

स्कूल और विश्वविद्यालय की शिक्षा व्यवस्था ही देश का भविष्य तय करती है.लेकिन अगर उसी शिक्षा के मंदिर में शर्मनाक गतिविधियां हो तो उस वक़्त देश को डुबोने से कोई नहीं रोक सकता.यहां एक ऐसे ही विश्वविद्यालय की घटना सामने आई है जहाँ सबसे चर्चित विश्वविद्यालय में ग्रेड यानी मार्क्स देने के लिए वह के प्रोफेसर एक घटिया सौदा करते थे जहाँ ग्रेड के बदले ये प्रोफेस्सर बच्चियों से शारीरिक सम्बन्ध बनाने का ऑफर रखते रहे.जी हाँ जिस शिक्षा के मंदिर में माता पिता अपने बच्चो को पढ़ने भेजा करते रहे उन्हें इस बात का इल्म ही नहीं हुआ की यूनिवर्सिटी में क्या गन्दा खेल खेला जा रहा है.दरअसल अफ्रीका के इस्लामी देश मोरक्को के एक प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय के प्रोफेसर पर आरोप है की यूनिवर्सिटी के अंदर छात्रों के  ‘सेक्स-फॉर-ग्रेड’ का स्कैंडल चलाया गया है.जहाँ इस्लामिक देश के ये शिक्षक बच्चियों के साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाते और उसके बदले वो उन्हें अच्छे मार्क्स देते रहे.यहां मुश्किल ये रही की ऐसा करने पर बच्चियों को फ़ैल किया जाता रहा. 

बता दे की ये घटना मोरक्को के सेटेट शहर में स्थित हसन आई विश्वविद्यालय का है.जहाँ बताया गया है की विश्वविद्यालय के लॉ और अर्थशास्त्र विभाग का प्रोफेसर लंबे समय से छात्राओं को अच्छे नंबर देने के बदले सेक्स करने के लिए ब्लैकमेल करते आ रहे थे इस स्कैंडल में विश्विद्यालय के 4 अन्य प्रोफेसर भी बराबर का भागिदार है.यहां मोरक्को वर्ल्ड न्यूज के अनुसार, सितंबर 2021 के दौरान आरोपित प्रोफेसरों और छात्रों के बीच लीक हुई एक बातचीत सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो गई.जहाँ  प्रोफेसरों ने कथित तौर पर ‘अच्छे ग्रेड’ देने को लेकर ये कहा गया की उन्हें ‘सेक्स-फॉर-ग्रेड’ के नियम पर चलना होगा.जहाँ उन्हें शारीरिक सम्बन्ध बनाये बिना ग्रेड या मार्क्स नहीं दी जाएगी. 

- Advertisement -

इस मामले के खुलासे के बाद देशके अलग अलग कोने से कई छात्रों ने अपनी अपनी व्यथा सुनाने की शुरुआत की , कई छात्राओ ने इस बात की पुष्टि की की ये जानकारी जो निकल कर आई है वो बिल्कुयल सही है जिसपर उत्तर-पूर्वी शहर औजदा की एक पूर्व छात्रा ने भी अपने साथ हुए सेक्स फॉर ग्रेड स्कैंडल के बारे कहा कि नेशनल स्कूल ऑफ बिजनेस एंड मैनेजमेंट के एक प्रोफेसर ने उसे ओरल सेक्स नहीं करने को जबरदस्ती कहा जहाँ उसने धमकी दी की अगर छात्र ने ऐसा नहीं किया तो प्रोफेसर उसका कैरियर तबाह कर देगा.जहाँ इस संवेदनशील घटना पर मचे हंगामे के बाद पिछले महीने सरकार ने जाँच शुरू कर दी थी.आपकी जानकारी के लिए बता दे की इस सेक्स फॉर ग्रेड स्कैंडल के सनसनी भरे खुलासे के बाहर आने के बाद हसन विश्वविद्यालय के कानून और अर्थशास्त्र के संकाय के डीन ने नवंबर 2021 में अपने पद को छोड़कर इस्तीफा दे दिया था। जबकि इस मामले में अदालत ने दोषी प्रोफेस्सर को दो साल की सजा सुनाई है.वही बीते बुधवार (12 जनवरी, 2022) को अदालत ने आरोपित प्रोफेसर को छात्राओं के खिलाफ अश्लील बर्ताव, यौन शोषण और हिंसा के मामले में आरोपी मान लिया गया है.इस बिच आपको बता दे की ‘सेक्स-फॉर-ग्रेड’ स्कैंडल के  चार अन्य आऱोपित प्रोफेसरों को 24 जनवरी को कोर्ट की तरफ से सजा सुनाई जाएगी.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...