प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिला NCP का साथ, विपक्ष की डिग्री का मुद्दा उठाने पर भड़के पवार

ज़रूर पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की डिग्री दिखाने के मामलें पर अब एनसीपी पीएम के समर्थन में आ गई है. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के नेता अजीत पवार ने कहा कि मंत्रियों की डिग्री पर सवाल उठाना सही नहीं है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की डिग्री दिखाने के मामलें पर अब एनसीपी पीएम के समर्थन में आ गई है. मुख्यमंत्री केजरीवाल और शिवसेना (ठाकरे समूह) पार्टी के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने बीते दिनों पीएम मोदी (Prime Minister Narendra Modi) पर उनकी डिग्री दिखाने की बात रखी. जिसपर अब राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के नेता अजीत पवार ने कहा कि मंत्रियों की डिग्री पर सवाल उठाना सही नहीं है. जबकि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी (Prime Minister Narendra Modi) का जिक्र करते हुए कहा कि पीएम अपने करिश्मे की वजह से 2014 में जीते थे नाकि डिग्री के आधार पर. जहाँ अब महाविकास अघाड़ी दल में टकराव देखने को मिल रहा है. चुकी उद्धव ठाकरे और एनसीपी की दोस्ती जगजाहिर है. हालाँकि पीएम मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के शिक्षा पर दोनों बातें हुए हैं.

- Advertisement -

NCP नेता अजीत पवार ने पीएम का दिया साथ

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के नेता अजीत पवार (Ajit Pawar) के सुर अन्य विपक्षी नेताओं से बिलकुल अलग है. अजित पवार ने कहा कि मंत्रियों की डिग्री पर सवाल उठाना सही नहीं है. लोगों को इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि किसी नेता ने अपने कार्यकाल में क्या हासिल किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की डिग्री के बारे में रविवार को जनसभा को संबोधित करते हुए अजित पवार ने कहा, ‘साल 2014 में क्या जनता ने प्रधानमंत्री मोदी (Prime Minister Narendra Modi) को उनकी डिग्री के आधार पर वोट दिया था? उनका जो करिश्मा था, उससे उन्हें मदद मिली और वो चुनाव जीतें.’

‘पीएम मोदी 9 साल से देश का प्रतिनिधित्व कर रहे’

सम्बोधन के दौरान NCP के नेता अजीत पवार (Ajit Pawar) ने प्रधानमंत्री (Prime Minister Narendra Modi) के कार्यकाल का जिक्र करते हुए कहा कि, ‘अब वो नौ साल से देश का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. उनकी डिग्री के बारे में पूछना उचित नहीं है. हमें उनसे महंगाई और बेरोजगारी जैसे मुद्दों पर सवाल करना चाहिए. मंत्री की डिग्री कोई महत्वपूर्ण मुद्दा नहीं है.’ उन्होंने आगे पूछा, ‘अगर हमें उनकी डिग्री पर स्पष्टता मिलती है तो क्या महंगाई कम होगी? क्या उनकी डिग्री का स्टेटस जानने के बाद लोगों को नौकरी मिलेगी?’

उद्धव ने केजरीवाल ने उठाया डिग्री का मुद्दा

बीते दिनों महाविकास अघाड़ी की बैठक छत्रपति संभाजीनगर में हुई. यहां मराठवाड़ा सांस्कृतिक बोर्ड के मैदान में आयोजित इस बैठक में शिवसेना (ठाकरे समूह) पार्टी के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने केजरीवाल का साथ दिया. जहाँ उन्होंने कॉलेज डिग्री विवाद को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) पर निशाना साधा है. ठाकरे ने कहा, “ऐसे कई युवा हैं जिनके पास डिग्री है लेकिन नौकरी नहीं है. जब पीएम को डिग्री दिखाने के लिए कहा जाता है, तो 25,000 रुपये जुर्माना लगाया जाता है. जहाँ यूनिवर्सिटी को प्रधानमंत्री मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की डिग्री के बारे में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को जानकारी उपलब्ध कराने को कहा गया था. अदालत ने केजरीवाल पर 25,000 रुपए का जुर्माना भी लगाया था.

- Advertisement -

वहीँ सीएम केजरीवाल ने फिर पीएम (Prime Minister Narendra Modi) को अपनी यूनिवर्सिटी की डिग्री दिखाने को कहा. जहाँ उन्होंने प्रधानमंत्री को काम पढ़ा लिखा या अनपढ़ करार दिया. हालाँकि उन्हें लोगों की तरफ़ से उनके इस बयान पर आलोचना भी झेलनी पड़ी.

- Advertisement -

Latest News

PM मोदी से आम आदमी कैसे कर सकता है बात? जाने नंबर, एड्रेस से लेकर ईमेल आईडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इतने लोकप्रिय हैं कि उनके सोशल मीडिया साइट्स पर करोड़ो फॉलोवर्स हैं. ऐसे में उनसे जुड़े...

अन्य आर्टिकल पढ़ें...