राष्ट्रपति मुर्मू ने PM मोदी और सऊदी प्रिंस को किया हैरान, चीन-पाकिस्तान परेशान

ज़रूर पढ़ें

भारत में G-20 के शानदार समापन के बाद सऊदी अरब के क्राउन प्रिन्स सलमान अपने राजकीय यात्रा पर यहीं रुके. ऐसे में पीएम मोदी और राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से उनकी मुलाकात अब चीन और पाकिस्तान में चर्चा का विषय बन गई है

प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत ने G-20 का शानदार समापन किया. हिन्दुस्तान की सरजमीं पर दुनियाभर के ग्लोबल लीडर एक मंच पर खड़े हुए. भारत की इस सफलता की चर्चा आज पूरी दुनिया में हो रही है. भारत में G-20 के अंतिम चरण 9 और 10 सितंबर को नई दिल्ली में संपन्न हुआ. भारत की सांस्कृतिक विरासत और G-20 की सफल अध्यक्षता से पूरी दुनिया आकर्षित हो गई है. यहां भारतीय प्रधानमंत्री मोदी ने प्रक्रिया अनुसार ब्राजील को अध्यक्षता सौंप दी है. ऐसे में G-20 के समापन के बाद सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान भारत के राजकीय यात्रा पर रुके. यहां दोनों देशों के बिच कई समझौते हुए. इसके अलावा क्राउन प्रिन्स सलमान ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से भी मुलाकात की. ऐसे में अब राष्ट्रपति मुर्मू के उस भाषण की काफी चर्चा है. वहीं दूसरी तरफ भारत की सफलता को देख चीन और पाकिस्तान की तिलमिलाहट बढ़ गई है.

- Advertisement -

राष्ट्रपति मुर्मू से क्राउन प्रिन्स की मुलाकात

11 सितंबर को राष्ट्रपति भवन में द्रौपदी मुर्मू के साथ पीएम मोदी और क्राउन प्रिंस रात्रिभोज में शामिल हुए. यहां सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने भारत का आभार व्यक्त किया. उन्होंने भारत की जमकर तारीफ की और बताया की प्रधानमंत्री मोदी के साथ उन्होंने एक सफल बैठक है. बता दें की क्राउन प्रिन्स सलमान यहां जी-20 के बाद भारत में राजकीय यात्रा पर थे. उन्होने भारत के साथ अपने संबंधों को और मजबूत करने पर जोड़ डाला. बता दें कि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने क्राउन प्रिन्स और पीएम मोदी समेत अन्य के सामने भाषण में कहा कि सऊदी अरब भारत के सबसे महत्वपूर्ण रणनीतिक भागीदारों में से एक है।राष्ट्रपति ने सऊदी और भारत के मजबूत रिश्तों ख़ुशी जताई और कहा कि आधुनिक दुनिया में, भारत और सऊदी अरब सांस्कृतिक अनुभव और आर्थिक तालमेल साझा करते हैं, तथा एक शांतिपूर्ण एवं टिकाऊ दुनिया के प्रति प्रतिबद्धता साझा करते हैं. ऐसे में भारत का सऊदी अरब जैसे मुस्लिम देशों के साथ बने मजबूत रिश्तों के देख चीन और पाकिस्तान फिलहाल अफ़सोस कर रहा है.

पीएम मोदी और क्राउन प्रिन्स के बिच क्या बातचीत हुई?

दिल्ली स्थित हैदराबाद हाउस में पीएम मोदी और सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने 100 अरब डॉलर के निवेश को तेजी से आगे बढ़ाया जाने पर सहमति जताई. यही नहीं भारत और सऊदी अरब अब साथ मिलकर ऊर्जा से लेकर रक्षा में एक दूसरे दामन थाम के आगे बढ़ेंगे. भारत और सऊदी अरब संयुक्‍त रूप से हथियार बनाने पर भी सहमत हुए हैं. दोनों देशों के बिच राजनातिक, रक्षा, सुरक्षा, व्यापार, निवेश, ऊर्जा, लोगों के समन्वय और सांस्कृतिक रिश्तों सहित सभी क्षेत्रों पर कई अहम् मुद्दे पर जोड़ डाला गया. इस प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता के बाद कई समझौते हुए जहाँ दोनों देशों के राष्ट्राध्यक्षों ने दस्तख़त किया.

बौखलाया चीन-पाकिस्तान

भारत की अध्यक्षता में G-20 की सफल समापन से लेकर भारत की हो रही वाहवाही से चीन और पाकिस्तान में घबराहट बढ़ गई है. जिस तरीके से दुनिया भारत की पीठ थपथपा रहा है. प्रधानमंत्री मोदी की नीतियों का मुरीद हो गया है ये दोनों हीं मुल्कों के परेशानी का सबब बन गया है. बता दें कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में अमेरिका, सऊदी अरब और यूरोपीय देशों के नेताओं के साथ मिलकर ‘इंडिया – मिडिल ईस्ट – यूरोप इकोनॉमिक कॉरिडोर’ लॉन्च कर दिया है. इस कॉरिडोर की मदद से अतिरिक्त एशियाई देशों को आकर्षित करने की कोशिश रहेगी. इससे क्षेत्र में मैन्यूफैक्चरिंग, फूड सिक्योरिटी और सप्लाई चेन को बढ़ावा मिलेगा. इसका बड़ा फायदा भारत को मिलेगा. ऐसे में इस कामयाबी के बाद से चीन-पाकिस्तान की नींदे उड़ गई है.

- Advertisement -

Latest News

PM मोदी से आम आदमी कैसे कर सकता है बात? जाने नंबर, एड्रेस से लेकर ईमेल आईडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इतने लोकप्रिय हैं कि उनके सोशल मीडिया साइट्स पर करोड़ो फॉलोवर्स हैं. ऐसे में उनसे जुड़े...

अन्य आर्टिकल पढ़ें...