PM मोदी ने BJP स्थापना दिवस पर बताया विजन, जानें पवन पुत्र हनुमान का क्यों लिया नाम

ज़रूर पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के 44वें स्थापना दिवस पर वर्चुअली जुड़े. वहीँ उन्होंने वंशवाद और परिवारवाद को लेकर विपक्ष पर निशाना साधा. इस मौके पर PM ने बीजेपी सरकार की उपलब्धियां गिनवाई. इसके साथ ही हनुमान जयंती का भी ज़िक्र किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के 44वें स्थापना दिवस पर वर्चुअली जुड़े. बता दें कि आज भारतीय जनता पार्टी को स्थापित हुए पूरे 44 (1980-2023) वर्ष पूरे हो गए हैं. इस बिच पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर पीएम ने देशभर के पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) ने यहां बीजेपी कार्यकर्ताओं को 45 मिनट तक संबोधित किया. इस बिच पीएम ने कई मुद्दों को उछाला.

- Advertisement -

बीजेपी के लक्ष्य और संकल्प को याद दिलाते हुए प्रधानमंत्री मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने सभी को मूल्य मन्त्र बताया. हालाँकि इस बिच प्रधानमंत्री ने परिवारवाद और वंशवाद को लेकर विपक्ष पर निशाना साधा है. इस मौके पर प्रधानमंत्री (Prime Minister Narendra Modi) ने बीजेपी सरकार की उपलब्धियां गिनवाई. इसके साथ ही हनुमान जयंती का भी ज़िक्र किया.

हनुमान जयंती पर बताई भाजपा की प्रेरणा

आज पूरे देशभर में हनुमान जन्मोत्सव की धूम है. जहाँ पार्टी (BJP) के स्थापना दिवस पर पीएम मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने श्री हनुमान का जिक्र करना नहीं भूले. इसके साथ हीं उन्होंने बीजेपी की कार्यशैली का भी जिक्र किया.

जहाँ प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा हनुमानजी के ‘कैन डू’ एटीट्यूड की तरह काम करती है और सबकी मदद करने की कोशिश भी करती है. ‘हनुमानजी सब कुछ कर सकते हैं, सबके लिए करते हैं, लेकिन अपने लिए कुछ नहीं करते. यही भाजपा (BJP) की प्रेरणा है. एक और प्रेरणा है. जब हनुमानजी को राक्षसों का सामना करना पड़ा तो वो कठोर हो गए. जब भ्रष्टाचार, परिवारवाद, कानून-व्यवस्था की बात आती है तो भाजपा (BJP) उतनी ही संकल्पबद्ध हो जाती है मां भारती को मुक्त कराने के लिए.

‘ऐसा कोई भी काम नहीं है जो पवन पुत्र कर नहीं सकते’

पीएम मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कहा, ‘समंदर जैसी महान शक्तियों का मुकाबला करने में पहले से कहीं ज्यादा तैयार है. हनुमान जी अपने लिए कुछ नहीं करते है, सब कुछ दूसरों के लिए. जब हनुमान जी को राक्षकों का सामना करना पड़ा था तो वो बहुत ज्याद कठोर हो गए थे, इसी तरह भारत में कानून और भष्ट्राचार की बात आती है, तो भाजपा उतनी ही कठोर हो जाती है. ऐसा कोई भी काम नहीं है जो पवन पुत्र कर नहीं सकते है, भाजपा भी इसी प्रेरणा से लोगों की समस्याओं का हल करने में लगी हुई है.

प्रधानमंत्री ने बताया बीजेपी का विजन

पीएम मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने भारतीय जनता पार्टी के स्थापना दिवस पर बीजेपी (BJP) के भविष्य की सियासत का विजन का जिक्र किया. प्रधानमंत्री ने कहा, ‘बीजेपी (BJP) जब अपने गठन के 50 साल पूरे कर रही होगी, तब देश की आजादी के 100 साल पूरे होंगे. आइए हम अपने देश को नई ऊंचाइयों पर ले जाने, सभी का दिल जीतने, मां भारती के सपनों को पूरी तरह से साकार करने का संकल्प लें.’

कार्यकर्ताओं को दिया ख़ास सन्देश

बीजेपी के स्थापना दिवस पर पीएम मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कहा कि पार्टी के लिए अपनी तैयारी रखनी होगी. बीजेपी (BJP) के निरंतर विस्तार की दिशा में काम करना होगा. पार्टी के कार्यकार्ताओं की ट्रेंनिंग के लिए नए प्लेटफॉर्म बनाने होंगे. सांसद और चुने हुए प्रतिनिधि कार्यकर्ताओं को जानकारी देने की दिशा में बड़े मददगार साबित हो सकते हैं, क्योंकि उनके पास जानकारी के ज्यादा स्रोत हैं. बीजेपी (BJP) के अलग-अलग मोर्चा भी अपने-अपने माध्यम से अलग-अलग समाज के मदद कर सकते हैं.

विपक्ष पर साधा निशाना

बीजेपी (BJP) के स्थापना दिवस के मौके पर पीएम मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए विपक्ष पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि हताश विपक्ष कह रहा- मोदी तेरी कब्र खुदेगी: ‘जब हमारा मजाक उड़ाकर सफल नहीं हुए तो बादशाही मानसिकता वाले लोगों की नफरत और बढ़ गई. दशकों से हि*सा झेल रहे कश्मीर और नॉर्थ ईस्ट में शांति का सूरज उगेगा, ये उन्होंने सोचा नहीं था. आर्टिकल 370 इतिहास हो जाएगा, ये उन्होंने कल्पना नहीं की थी. जो काम दशकों तक नहीं हुए, वो भाजपा कैसे कर रही है, वो इन्हें पच नहीं रहा है.’

विपक्ष है बेचैन और हताश!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) यहीं नहीं रुके. उन्होंने विपक्ष पर हमला बोलते हुए आगे कहा कि, ‘नफरत से भरे ये लोग झूठ बोले जा रहे हैं. अपने भ्रष्ट कर्मों का खुलासा होते देख ये बेचैन हैं और हताशा से भर गए हैं. इतने निराश हैं कि एक ही रास्ता दिख रहा है. खुलकर कह रहे हैं कि मोदी तेरी कब्र खुदेगी. वो कब्र खोदने की धमकी दे रहे हैं.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...