राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा देख बर्दाश्त नहीं कर पा रहा पाकिस्तान, बेशर्मी की हदें पार की

ज़रूर पढ़ें

भगवान राम की प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी 2024 को पूरी हो गई. हालांकि पाकिस्तानी मीडिया को अयोध्या के भव्य दृश्य को देखकर तकलीफ हो रही है

भगवान राम की प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी 2024 को पूरी हो गई. पीएम मोदी के मौजूदगी में भगवान राम की मूर्ति के प्राण प्रतिष्ठा का कार्य विधि विधान से संपन्न हुआ. वहीं पूरे देश-विदेश में राम लला के इस उत्सव को त्योहार की तरह मनाया जा रहा है. हालांकि पाकिस्तानी मीडिया को अयोध्या के भव्य दृश्य को देखकर तकलीफ हो रही है.

- Advertisement -

पाकिस्तानी मीडिया में छाया मातम

पाकिस्तानी मीडिया लगातार भारत में बने अयोध्या के मंदिर पर झूठ फैला रहा है. अलग अलग पैनेलिस्ट को न्यूज़ रूम में बिठाकर अफवाह फैला रहे हैं. यहीं नहीं राम मंदिर को लगातार बाबरी मस्जिद करार देते नजर आये.

विश्व में एक तरफ राम लला का मंदिर के जश्न में अलग अलग कार्यक्रम हो रहे हैं वहीं पाकिस्तान ये सब देखकर रो रहा है.

राम मंदिर पर पाकिस्तान का झूठ

न्यूयॉर्क के टाइम्स स्क्वायर में राम मंदिर और भगवा ध्वज लहरा रहा है. इसके अलावा विश्व के कोने कोने में राम भक्तों का जश्न दिख रहा है.

- Advertisement -

पाकिस्तानी मीडिया भारत के इस जश्न पर झूठ परोसकर अपना मजाक बनवा रहे हैं. वहीं पीएम मोदी पर कई आरोप लगाने की कोशिश कर रहा है.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...