नूपुर शर्मा के समर्थन में सड़क पर उतरेंगे 18 लाख नागा साधु,कट्टरपंथियों में हड़कंप!

ज़रूर पढ़ें

इन दिनों देशभर में नूपुर शर्मा के बयान को लेकर बवाल मचा हुआ है. कुछ लोग नूपुर शर्मा के समर्थन में हैं तो कुछ विरोध में. अब नूपुर शर्मा के समर्थन में नागा साधुओं ने भी एंट्री ले ली है, वहीं अब कुल 18 लाख नागा साधु नूपुर के समर्थन में सड़कों पर उतरने वाले हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पाताल पुरी मठ के प्रमुख महंत बालक दास का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में उन्हें यह कहते हुए सुना जा सकता है कि यदि इस्लामवादियों ने बीजेपी की प्रवक्ता नूपुर शर्मा को नुकसान पहुँचाने की कोशिश की तो साधु समाज शांत नहीं बैठेगा। उन्होंने कहा कि हमारी बेटी को बलात्कार की धमकी दी जा रही है, उनकी रक्षा के लिए 18 लाख नागा साधु-संत सड़कों पर उतरेंगे।

- Advertisement -

यह वीडियो 11 जून को काशी में हुई धर्म परिषद का है। धर्म परिषद का आयोजन वाराणसी के हर तीरथ के सुदाम कुटी में किया गया था। बैठक की अध्यक्षता पातालपुरी मठ के प्रमुख महंत बालक दास ने की थी। इस सभा में काशी में कई मठों, पीठों और अखाड़ों के प्रमुख पुजारियों और धार्मिक नेताओं के साथ-साथ कई अन्य हिंदू संतों ने भाग लिया था।

इस दौरान महंत बालक दास ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा, “दिन-ब-दिन अराजकता बढ़ती ही जा रही है। लोगों ने हद ही पार कर दी है। भगवान शिव का मजाक उड़ाया जा रहा है। शिवलिंग को एक फव्वारा कहा जा रहा है। इसके बाद भी सनातन धर्म के लोग शांत बैठे हुए हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “हद हो गई, भारत की एक बेटी ने भगवान शिव पर अपमानजनक टिप्पणी सुनने के बाद वही कहा जो उनके कुरान में लिखा हुआ है। सभी सनातनी लोग शांतिपूर्ण बर्ताव कर हैं, फिर भी ये मौलवी मस्जिदों से लोगों को बुला रहे हैं कि वे आएँ पत्थर फेंकें और अराजकता फैलाएँ।”

- Advertisement -

महंत बालक दास ने कहा कि अगर चीजें गलत होती हैं तो नागा साधु नूपुर शर्मा के बचाव में सड़कों पर उतरेंगे। उन्होंने कहा, “आज हमारी बेटी को बलात्कार की धमकी दी जा रही है। अगर उसे कुछ हो गया तो ध्यान रहे कि यह साधु संत समाज शांत नहीं बैठेगा। 18 लाख नागा साधु सड़क पर उतर आएँगे, साथ ही पूरा संत समाज सड़क पर उतर आएगा और फिर आप उस दृश्य की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं।”

बीते दिनों संतों ने इस्लामिक कट्टरपंथियों की हिंसा के खिलाफ 16 प्रस्तावों को पास किया था। संतों ने एक सुर में कहा था कि भारत में किसी भी तरह से तालिबानी मानसिकता को फैलने नहीं दिया जाएगा। धर्म परिषद में नूपुर शर्मा को रेप और हत्या की धमकी देने वालों को भी जेल भेजने की माँग की गई थी।

नागा साधु भगवान शिव के भक्त होते हैं, जो हिमालय में निवास करते हैं। आदिगुरु शंकराचार्य की ओर से स्थापित किए गए विभिन्न अखाड़ों में रहने वाले ऐसे साधु नग्न रहते हैं और शरीर पर धूनी की राख लपेटकर रखते हैं। कुंभ मेले में ये शाही स्नान के लिए एकत्रित होते हैं।

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...