Mohmmed Zubair कि बढ़ी मुसीबत, Delhi Police का दावा- बैंक अकाउंट में हुई Pakistan और Saudi से फंडिंग

ज़रूर पढ़ें

दिल्ली पुलिस ने जुबैर पर 201, 120B, 35 FCRA धाराएं लगाई हैं. ये सारे सेक्शंस पुलिस ने जुबैर पर सबूत मिटाने के साथ एक साजिश रचने और विदेशी चंदे लेने के ऊपर लगाएं गए हैं

बीते 27 जून को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने फैक्ट चेकर मोहम्मद जुबैर को धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में को गिरफ्तार किया था. पत्रकार ज़ुबैर पर हिन्दू देवी देवताओं को लेकर आप्पतिजनक पोस्ट करने का आरोप है.

- Advertisement -

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि दिल्ली पुलिस की मांग पर अदालत ने सभी तथ्यों पर विचार करने के बाद जुबैर को पुलिस हिरासत में भेजा था. यहां सेक्शन 153 ए और 295 ए के तहत मोहम्मद जुबैर पर मुक़दमा दर्ज है.

गिरफ़्तारी के बाद से ज़ुबैर से जुड़े कई खुलासे सामने आएं, जिसने हर किसी को चौंका दिया है. अभी मौजूदा समय में कार्यवाई और जांच चल रही है जहाँ फैक्ट चेकर मोहम्मद जुबैर को दिल्ली पुलिस ने पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया. इसके बाद फैसला सुनाया गया कि जुबैर को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में रखा जायेगा.

ऐसे में जांच और पड़ता के बिच दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार पत्रकार जुबैर पर सबूत मिटाने के आरोप लगाए हैं इसके साथ हीं साजिश रचने और विदेशी चंदे लेने के आरोप में अब नई धाराएं लगाई हैं.

- Advertisement -

जानकारी मुताबिक़ ज़ुबैर कि गिरफ़्तारी के बाद उसका मोबाइल फोन और हार्ड डिस्क जब्त कर लिया गया था. ऐसे में कई बड़ी बातें खुलकर सामने आई हैं.

बव्ता दें कि दिल्ली पुलिस ने Pravda foundation ICICI बैंक की डिटेल्स ईडी को सौंपी है. यहां ज़ुबैर के इस अकाउंट में पिछले तीन महीने में 56 लाख रुपए आए हैं.

सूत्रों के मुताबिक, ये रूपए का सधा कनेक्शन पाकिस्तान से बताया जा रहा है, जहाँ ख़बरें बता रही हैं कि इस अकाउंट में पाकिस्तान और सऊदी से भी रकम आई है.

मौजूदा समय में जुबैर के वकील ने पटियाला कोर्ट में जमानत याचिका दाखिल की है. हालाँकि इसको लेकर अनुमान की जमानत मिलना है.

क्योंकि दिल्ली पुलिस ने जुबैर पर 201, 120B, 35 FCRA धाराएं लगाई हैं. ये सारे सेक्शंस पुलिस ने जुबैर पर सबूत मिटाने के साथ एक साजिश रचने और विदेशी चंदे लेने के ऊपर लगाएं गए हैं.

अब जैसे में पत्रकार ज़ुबैर पर ये सभी धराएं लगे हैं, उससे अंदाजा लगाना मुश्किल है कि उन्हें फिलहाल कोई जमानत मिल पाएगी, चुकि दिल्ली पुलिस का दावा है कि उनके पास धार्मिक भावनाएं भड़काने वाले मोहम्मद ज़ुबैर के खिलाफ पर्याप्त सबुत हैं.

जानकारी मुताबिक 29 जून को दिल्ली पुलिस ने जुबैर की बैंक डिटेल की जानकारी और साथ ही FIR की कॉपी ईडी को सौंपी है. ऐसे में ED इस विदेशी फंडिंग कि जांच कर सकती है, जिसके बाद सारा सच्चा बहार आ जायेगा.

मोहम्मद ज़ुबैर को लेकर फिलहाल राजनीती में भी खलबली मची हुई है. एक तरफ बिपक्ष के नेता का कहना है कि मोहम्मद ज़ुबैर को मोदी सरकार द्वारा सच बोलने कि सजा दी जा रही है, वहीँ बीजेपी साफ़ तौर पर कह चुकी है कि विपक्ष इस पर सिर्फ राजनीती कर रहा है, जहाँ इस केस से सरकार का कोई लेना देना नहीं है.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...