‘मनीष कश्यप पर NSA तो उदयनिधि पर क्यों नहीं’? युट्यूबर की माँ ने राष्ट्रपति को लिखा पत्र

ज़रूर पढ़ें

तमिलनाडु के सीएम एमके स्टालिन के बेटे उदयनिधि के विवादित बयान का जिक्र करते हुए मनीष कश्यप की माँ मधु देवी ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को एक पत्र लिखा है

मनीष कश्यप बिहार के जाने माने यूट्यूबर हैं. तमिलनाडु में बिहारी मजदूरों के कथित पिटाई की झूठी खबर फैलाने के आरोप में यूट्यूबर जेल में बंद हैं. मनीष कश्यप पर तमिलनाडु और बिहार में कई FIR दर्ज है. इसके अलावा मनीष कश्यप पर राष्ट्रिय सुरक्षा अधिनियम (NSA) भी लगा हुआ है. ऐसे में अब मनीष कश्यप एक बार फिर चर्चा में आ गए हैं. दरअसल तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन के बेटे और DMK नेता उदयनिधि स्टालिन ने बीते 2 सितंबर को सनातन धर्म की तुलना डेंगू, मलेरिया और कोरोना जैसी बीमारियों से की थी. इसके बाद हंगामा मच गया. ऐसे में अब उनके विवादित बयान का जिक्र करते हुए मनीष कश्यप की माँ मधु देवी ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को एक पत्र लिखा है.

यूट्यूबर की माँ ने उठाया उदयनिधि का मुद्दा

मनीष कश्यप की माँ मधु देवी अपने बेटे के लिए लगातार न्याय की मांग करती रही हैं. मधु देवी ने मीडिया इंटरव्यू में इस बात का कई बार जिक्र किया है कि उनके बेटे के साथ साजिश हो रही है. ऐसे तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन के बेटे उदयनिधि पर अब मनीष की माँ ने सवाल उठाए हैं.

मधु देवी ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को एक पत्र लिखा है. इसमें उन्होंने लिखा की मेरे बेटे के ऊपर बिहार सरकार तथा तमिलनाडु सरकार ने मिली भगत से NSA लगा दिया. अगर मेरे बेटे के वजह से दो राज्यों में टकराव के स्थिति पैदा हुई तो एक मुख्यमंत्री का बेटा जो तमिलनाडु में एक मंत्री हैं उसे उद्यानिधि स्टालिन के बयान पर तो पूरे देश में टकराव की स्थिति पैदा हो सकती थी फिर उन पर NSA लगाकर जेल में क्यों नहीं डाला जा रहा है.

सुप्रीम कोर्ट से की जांच की मांग

मनीष कश्यप की माँ मधु देवी ने अपने पत्र में आगे लिखा कि, अगर संविधान सबके लिए बराबर है तो तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के बेटे उदयनिधि पर भी NSA लगाए जाए. इसके अलावा उन्होंने आगे कहा, तमिलनाडु में प्रवासी मजदूरों के साथ जो घटना घटा था उसका सुप्रीम कोर्ट के द्वारा गठित स्वतंत्र कमेटी के द्वारा जांच की मैं मांग करती हूं.

क्या था मनीष कश्यप का मामला?

फरवरी 2023 में तमिलनाडु में बिहारी मजदूरों की पिटाई की बात कही जा रही थी हालाँकि सरकार ने इस खबर को फर्जी बताया. ऐसे में मनीष कश्यप ने अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो पोस्ट किया. इस वीडियो पर दावा किया गया की तमिलनाडु में बिहार के प्रवासी मजदूरों के साथ मार पिटाई की जा रही है. ऐसे में इस वीडियो को पूरे तरीके से फर्जी बताया गया और मनीष कश्यप पर NSA लगा दिया गया. 18 मार्च को यूट्यूबर को गिरफ्तार किया गया. जहाँ पहले यूट्यूबर को मदुरै सेंट्रल जेल में रखा गया था जिसके बाद उन्हें पटना के बेउर जेल में रखा गया है.

- Advertisement -

Latest News

अनंत अंबानी और राधिका मर्चेंट कब आये करीब? कैसे शुरू हुआ प्यार का सफर?

अनंत अंबानी और राधिका मर्चेंट गुजरात की ग्रैंड प्री-वेडिंग बैश जामनगर में 1-3 मार्च तक चलेगा। ऐसे में अंबानी...

अन्य आर्टिकल पढ़ें...