लूलू मॉल में नमाज तो ज्ञानवापी मंदिर में जलाभिषेक क्यों नहीं,राजू दास ने पूछा सवाल!

ज़रूर पढ़ें

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ का लूलू मॉल पिछले कुछ दिनों से विवादों में चल रहा हैं. इस मॉल को बैन करने की मांग भी उठ रही हैं.सोशल मीडिया पर तमाम तरह की बाते की जा रही हैं. आपको ये बता दे की इस मॉल का उद्घाटन सीएम योगी ने बीते रविवार को किया था. अब ये मॉल विवादों में है।दरअसल हंगामा इसलिए हुआ क्योंकि कुछ लोगों ने मॉल के अंदर नमाज पढ़ी.

लूलू मॉल को लेकर क्या बोला हिन्दू संगठन

- Advertisement -

लूलू मॉल को लेकर हिन्दू संगठन उग्र दिखाई दे रहा है.अब हिंदू संगठन चाहते हैं कि मॉल के अंदर हनुमान चालीसा और सुंदरकांड का पाठ किया जाए। लुलु मॉल को लेकर विवाद गहराता देख सरकार ने अब मॉल के आसपास पीएसी तैनात कर दी है ताकि किसी तरह की अप्रिय घटना न होने पाए। वहीं लुलु मॉल विवाद को लेकर बीजेपी भी काफी असहज दिखाई दे रही है क्योंकि सीएम योगी आदित्यनाथ ने ही इसका शुभारंभ किया था।

क्या बोले राजू दास

अब इसी मामले को ज्ञानवापी मंदिर से जोड़ते हुए अयोध्या हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने श्रावण मास में वहां भोले शकर को जल चढ़ाने की अनुमति देने की मांग की है. राजू दास कहते हैं जब मुस्लिम वर्ग कह रहा है कि लुलु मॉल में नमाज पढ़ा गया तो किसी को क्या आपत्ति है तो हमारी मांग है कि हमें भी ज्ञानवापी मंदिर में जलाभिषेक की अनुमति दी जाए और इसमें किसी को कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए. सरकार से अपील है और अनुमति प्रदान करें और हम सब लोग की इच्छा है कि जल्द से जल्द हम लोग वहां पर पहुंचकर के भगवान भोले का जलाभिषेक करें.

- Advertisement -

क्या बोला मुस्लिम समाज

मुस्लिम वर्ग कह रहा था कि क्या आपत्ति है हमने नमाज वहां पर पड़ा किसी को तकलीफ नहीं होना चाहिए तो मैं भी कह रहा हूं कि ज्ञानवापी में मंदिर में जलाभिषेक कर ले तो किसी को मुस्लिम भाई को तकलीफ नहीं होनी चाहिए. इस के नाते सरकार से अपील है और अनुमति प्रदान करें और हम सब लोग की इच्छा है कि जल्द से जल्द हम लोग वहां पर पहुंचकर के भगवान भोले का जलाभिषेक करें.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...