कानपूर के एक स्कुल में कलमा पढ़ाये जाने पर घमासान,हिन्दू संगठनों ने किया विरोध!

ज़रूर पढ़ें

अभी हाल ही में कुछ दिन पहले लखनऊ का लूलू मॉल नमाज पढ़ने को लेकर विवादों में आ गया था. हिन्दू संगठन के लोगो ने इसका जमकर विरोध भी किया था. आपको ये बता दे की लूलू मॉल का विवाद अभी पुरे तरीके से थमा भी नहीं है की एक नया विवाद कानपूर से आ गया है.यहां पर एक स्कुल में कलमा पढ़ने को लेकर विवाद हुआ है.

क्या है पूरा मामला

- Advertisement -

कानपूर शहर के पी रोड स्थित फ्लोरेस्ट स्कूल में बच्चों को कलमा पढ़ाई जाने की शिकायत पर कुछ अभिभावकों ने एतराज जताया. इसके बाद पी रोड स्थित स्कूल के बाहर अभिभावक पहुंच गए. यह खबर एक ट्वीट के माध्यम से लोगों में फैली और जब इसकी जानकारी हिंदूवादी संगठनों को हुई तो वे भी वहां पहुंच कर हंगामा करने लगे और वे स्कूल बंद कराने की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए.

तब वहां एडीएम सिटी कानपुर और भारी फोर्स बल पहुंचा. हालांकि स्कूल को बंद कर दिया गया और जांच शुरू की गई और देर रात इस मामले में एसीपी निशांत शर्मा ने प्रबंधक सुमित मखीजा के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने की जानकारी दी.

क्या बोला स्कूल प्रबंधन

- Advertisement -

भारी विरोध और एफआईआर दर्ज होने के बाद अब इस मामले में स्कुल प्रबंधन का रिएक्शन आया है.प्रबंधक का कहना है कि स्कूल में पिछले कई सालों से सर्व धर्म सद्भावना की शिक्षा दी जा रही है. अभी तक कोई शिकायत ऐसी नहीं मिली थी. हालांकि, पिछले कुछ दिनों से कई अभिभावकों ने ऐतराज जताया था और इसके वीडियो भी वायरल कर दिए. इसके बाद स्कूल में सोमवार से यह प्रार्थना बंद करा दी गई थी और सिर्फ राष्ट्रगान कराया जाना शुरू किया गया. अब इस पर जबरदस्ती का कलमा को पढ़ाये जाने पर मुद्दा बनाया जा रहा है.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...