Janmashtami 2022:18 या 19 August, किस दिन मनाया जायेगा श्री कृष्णा जन्माष्टमी, जानें शुभ मुहूर्त

ज़रूर पढ़ें

Nisha
Nisha
--------------------------

श्री कृष्णा के जन्म जन्म के अवसर पर जन्माष्टमी का पर्व मनाया जाता है….इस दिन व्रतियां श्री की आराधना और पूजा में लीन रहती हैं… हिन्दू धर्म के अनुसार श्री कृष्णा रोहिणी नक्षत्र में जन्में थे…. भाद्रपद माह के कृष्णा पक्ष की अष्टमी तिथि को ही कृष्ण अवतरित हुए थे….इस वर्ष रक्षाबंधन की ही तरह कृष्णा जन्माष्टमी (Krishna Janmashtmi) भी दो पड़ रहा है,जिसके कारण तारीख के फेर बदल से हर कोई कन्फ्यूज़ है की आखिर किस दिन वो व्रत रखे और किस रात कृष्णा के जन्म पूजन की तैयारियां करें?

किस दिन मनाये कृष्ण जन्माष्टमी?

दरअसल,इस वर्ष 18 और 19 अगस्त दोनों ही दिनों को कृष्ण जन्माष्टमी है… लेकिन मान्यता के अनुसार तीती नहीं बल्कि मुहूर्त आवश्यक होता है… इस साल भाद्रपद के कृष्ण पक्ष अस्टमी तिथि 18 अगस्त रात 9 बजकर 20 मिनट से शुरु हो रही है और अगले दिन यानि की 19 अगस्त की रात 10 बजकर 59 मिनट पर समाप्त हो जाएगी… यानी की कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व 18 अगस्त गुरुवार को ही मनाया जायेगा… 18 तारीख को ही कृष्ण का पूजन और जन्माष्टमी का व्रत रखा जायेगा…

- Advertisement -

कितने तिथियों में होगी पूजा?

वहीँ अब बात कर लेते हैं की पूजा के लिए शुभ मुहूर्त क्या है…. जन्माष्टमी की पूजा तीन मुहूर्तों में की जाएगी… अभिजीत मुहूर्त,वृद्धि मुहूर्त और ध्रुव मुहूर्त….
अभिजीत मुहूर्त-18 अगस्त को 12 बजकर 05 मिनट से लेकर दोपहर 12 तक है….वृद्धि मुहूर्त-17 अगस्त को शाम 8 बजकर 56 मिनट से लेकर 18 अगस्त शाम 8 बजकर 41 मिनट तक है और ध्रुव मुहूर्त-18 अगस्त शाम 8 बजकर 41 मिनट से शुरू हो कर 19 अगस्त शाम 8 मिनट पर ख़त्म होगा….

कैसे करें पूजा?

इस दिन विशेष तौर का श्री कृष्णा की ही पूजा होती है….कृष्ण की प्रतिमा को नहला कर साफ़ सुथरे तरीके से नए वस्त्र पहना कर उनका श्रृंगार करते हैं….. फिर कृष्ण को अष्टगंध,चन्दन,अक्षत चढ़ा कर रोली का तिलक करते हैं… श्री कृष्ण का प्रिये माखन मिश्री भोग में चढ़ाते हैं और अन्य सामग्री भेंट स्वरुप अर्पित करते हैं… विसर्जन के लिए हाथ में फूल,चावल और पैसा ले कर उन्हें ध्यान कर के चौकी पर ही छोड़ देते हैं… खास ध्यान रखें और सख़्ती बरतें की पूजा में काले या सफ़ेद रंग की कोई भी चीज़ शामिल ना हो…

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...