Unacademy और करण सांगवान की कॉन्ट्रोवर्सी क्या है? वायरल वीडियो पर मचा बवाल

ज़रूर पढ़ें

Unacademy के शिक्षक रहे करण सांगवान के एक वीडियो ने हंगामा मचा दिया है. ऐसे में उन्हें बर्खास्त कर दिया गया है. आइए आपको पूरी कंट्रोवर्सी की जानकारी देते हैं

Unacademy छात्रों के लिए एक एजुकेशनल प्लेटफार्म है. यहां शिक्षकों द्वारा अलग-अलग क्षेत्र के कठिन से कठिन परीक्षाओं की तैयारी करवाई जाती है. हालाँकि Unacademy इन दिनों एक शिक्षक के चलते कंट्रोवर्सी में फंस चुकी है. करण सांगवान नाम के इस शिक्षक की एक वीडियो ने हंगामा मचा दिया है. ऐसे में Unacademy ने करण को बर्खास्त कर दिया है. यहां करण ने वोटिंग को लेकर एक बयान दिया जिसके कारण उनपर अपने व्यक्तिगत राय थोपने का भी आरोप लगा. ऐसे में आखिर वो कंट्रोवर्सी क्या है? और क्यों Unacademy ने करण के खिलाफ इतना बड़ा कदम उठाया? इन सभी सवालों के जवाब आपको इस लेख में देंगे. बता दें कि करण ने अपने बर्खास्त होने के खबर के बाद एक वीडियो साझा कर कुछ मुख्य बातें भी कही है.

- Advertisement -

वायरल वीडियो में शिक्षक ने क्या कहा?

सोशल मीडिया पर unacadmey के शिक्षक करण सांगवान देखते हीं देखते खूब वायरल हो गए. दरअसल उनके वायरल वीडियो में करण बच्चों से एक पढ़े लिखे नेता चुनने की नसीहत दे रहे थे. शिक्षक ने इस वीडियो में ये भी मेंशन किया की उन नेताओं को न चुना जाए जो सिर्फ नाम बदलते हैं. क्लासरूम में बच्चों को पढ़ाते करण की ये छोटी क्लिप को लोगों ने खूब शेयर किया और इसे प्रोपेगेंडा करार दिया.

unacademy ने क्यों दिखाया बाहर का रास्ता?

unacademy छात्रों के बिच खूब प्रचलित है. इसके अलावा छात्र अपने बेहतरीन शिक्षा के लिए इस प्लेटफार्म पर पे भी करते हैं. ऐसे में शिक्षक करण सांगवान छात्रों से पढ़े लिखे उम्मीदवारों को चुनने की बात रखी. हालाँकि इस दौरान कहीं न कहीं नाम ना बदलने वाली सरकार को नहीं चुनने की नसीहत ने भी बवाल खड़ा कर दिया। जाहिर तौर पर बीजेपी की सरकार में कई शहरों के नाम बदले हैं. जहाँ लोगों ने शिक्षक पर कई सवाल खड़े किये। बता दें कि करण सांगवान के वीडियो वायरल होने के बाद unacademy ने इसपर कड़ा एक्शन लिया और करण को बर्खास्त कर दिया. दलील दी गई की unacademy व्यक्तिगत राय रखने और विचार देने का प्लेटफॉर्म नहीं है. ये सरासर नियम का उल्लंघन है.

unacademy ने बताया- कांट्रैक्ट टूटा

unacademy सह-संस्थापक रोमन सैनी ने स्पष्ट करते हुए बताया कि शिक्षक करण सांगवान ने नियम तोड़े हैं. कॉन्ट्रैक्ट के मुताबिक unacademy से जुड़े शिक्षक क्लास के दौरान व्यक्तिगत राय नहीं रख सकते हैं. जहाँ करण के वायरल वीडियो में जो बात रखी गई है उसके आधार पर साफ है की कॉन्ट्रैक्ट का उल्लंघन हुआ है.

- Advertisement -

करण ने कंट्रोवर्सी के बाद साझा की वीडियो

शिक्षक करण ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कंट्रोवर्सी को लेकर एक वीडियो साझा किया। इसमें उन्होंने बताया की इस बवाल के कारन उनके कई छात्र जो न्यायिक सेवा परीक्षा की तैयारियों में जुटे हैं, उन्हें बुरे परिणाम भुगतने पर रहे हैं. उन्होंने कहा की वो खुद भी इसी दौर से गुजरना पड़ रहा है. बता दें कि करण ने ये भी कहा है की इस विवाद पर विस्तार से 19 अगस्त को वो पूरी जानकारी देंगे.

- Advertisement -

Latest News

PM मोदी से आम आदमी कैसे कर सकता है बात? जाने नंबर, एड्रेस से लेकर ईमेल आईडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इतने लोकप्रिय हैं कि उनके सोशल मीडिया साइट्स पर करोड़ो फॉलोवर्स हैं. ऐसे में उनसे जुड़े...

अन्य आर्टिकल पढ़ें...