संसद में घुस जाना आसान नहीं, जानिए कैसे बनता है पास और क्या चीजें हैं बैन?

संसद के अंदर प्रवेश के लिए सुरक्षा को चकमा देना इतना आसान नहीं है. एंट्री के लिए तीन स्तर की सुरक्षा जांच का सामना करना पड़ता है

संसद में बीते बुधवार को सुरक्षा में चूक हुई. संसद की कार्यवाही के बिच दो युवक पब्लिक गैलरी से सांसदों की मेज तक पहुंच गए और कलर स्मोक छोर दिया. इस प्रकरण ने देश को हिला कर रख दिया. एक तरफ जहाँ हाउस के अंदर हंगामा चल रहा था वहीँ संसद के बाहर भी दो संदिग्ध को पकड़ा गया. इस भयावह मंजर के बाद पार्लियामेंट की सुरक्षा पर सवाल उठा.

हालांकि आपको बता दें कि सुरक्षा को चकमा देना इतना आसान नहीं है. संसद में एंट्री लेने के लिए कई तरीके से जांच होती है. वहीँ एंट्री पास मिलने के लिए भी काफी मशक्कत करनी होती है.

संसद में प्रवेश के लिए ये है नियम

लोकसभा में दर्शक दीर्घा से कूदने वाले आरोपी मनोरंजन और सागर ने विजिटर पास लिया हुआ था. बता दें कि दर्शक दीर्घा में बैठने से पहले विजिटर्स की पूरे तरीके से जाँच होती है.

संसद के अंदर आने के लिए तीन स्तर की सुरक्षा जांच का सामना करना पड़ता है. नए संसद परिसर की एंट्री गेट पर कड़ी सुरक्षा रहती है. वहां एक-एक चीज को ध्यान से जांचा जाता है.

ऐसे में विजिटर्स गैलरी में वही बैठता है जिसे पीएसएस द्वारा सांसद की सिफारिश के आधार पर कार्यवाही देखने आने वाले विजिटर को एस्कॉर्ट किया जाता है. वहीं संसद सचिवालय की तरफ से पास बनवाए जाते. बता दें कि संसद में सुरक्षा चूक मामलें में अबतक 6 आरोपियों को निशाने पर लिया गया है.

संसद में ये चीजें हैं बैन !

विजिटर्स को संसद के अंदर किताबें, पेन, सिक्कें, छड़ी, छाता मोबाइल, लैपटॉप या किसी तरीके से इलेक्ट्रॉनिक्स गैजेट्स ले जाने की अनुमति नहीं होती है.