Ukraine-Russia के जंग में भारत ने किया कमाल, स्वदेश लौटे भारतीयों ने मोदी की जमकर तारीफ की

ज़रूर पढ़ें

शनिवार को 4 फ्लाइटें भेजे जाने की घोषणा की गई थी. शनिवार को यूक्रेन से 470 छात्रों को वतन वापस लाये जा रहे हैं. इसके बाद 1 फ्लाइट हंगरी से दिल्ली लाई जाएगी. जबकि एअर इंडिया की 2 फ्लाइट रोमानिया से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली लाई जाएगी

यूक्रेन-रूस के बिच चल रहे महाजंग की तबाही अपने चरम सिमा पर है. आक्रमक रवैया और यूक्रेन में हो रही मौतें दहशत का रंग दे रही है. भारत लगातार अपने 16 हज़ार भारतीय नागरिकों और छात्रों को वापस स्वदेश लाने के लिए लगातर पुरजोर ताकत झोंक रहा है.

- Advertisement -


भारत के प्रधानमंत्री और उनकी कैबिनेट ने हर संभव पैतरें आजमाए हैं जिसके तहत धीरे धीरे कर छात्रों और अन्य नागरिकों को वापस लाया गया.


शनिवार, 26 फरवरी को मुंबई से एक प्लाइट ने यूक्रेन के बुखारेस्ट के लिए उड़ान भरी. यूक्रेन में स्थितियां काफी गंभीर है, रूस की तरफ से लगातार हो रहे हमले में मुल्क में तबाही मच गई है, जबकि पभरत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने अलग अलग राणिनीति से भारतीय नागरिको को लाने का सिलसिला लगातर जारी रखे हुये हैं.

students ukraine


आपकी जानकारी के लिए बता दे कि एयर इंडिया की ओर से शनिवार को 4 फ्लाइटें भेजे जाने की घोषणा की गई थी. शनिवार को यूक्रेन से 470 छात्रों को वतन वापस लाये जा रहे हैं. इसके बाद 1 फ्लाइट हंगरी से दिल्ली लाई जाएगी. जबकि एअर इंडिया की 2 फ्लाइट रोमानिया से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली लाई जाएगी.

- Advertisement -


यहां अबतक लौटे सभी छात्र पीएम मोदी का शुक्रगुजार कर रहे हैं. एक तरफ पाकिस्तान के छात्र और नागरिक यूक्रेन में अपनी एम्बेसी को कोस रहे हैं, अपने मुल्क के ओईएम इमरान खान पर बरस रहे हैं जबकि दूसरी तरफ जहाँ भारत यूक्रेन और रूस के बिच संतुलन बनाकर अपने छात्रों को निकलने में लगातार लगी हुई है.


अबतक जितने यात्री भारत पहुंच पाए हैं. हर तरफ मोदी मोदी की गूंज सुनाई दे रही है. छात्रों को स्वदेश लौटने की ख़ुशी साफव उनके चेहरे पर दिखराही थी जबकि इस बिच हर एक व्यक्ति यूक्रेन की बदहाल स्थिति से जो भी निकला है, हर कोई भारतीय प्रधानमंत्री की डिप्लोमेसी और उनकी सूझ बुझ की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं.


यात्रियों ने वतन पहुंचकर सबसे पहले भारत और भारत के प्रधानमंत्री को शुक्रिया अदा किया। उन्होंने कहा भारत हमारे साथ है लगातार कोशिश कर रहे हैं की लोगो को वापस लाया जाये. इसकी जितनी तारीफ की जाये कम है.


मौजूदा समय में दुनियाभर में नरेंद्र मोदी की छवि उभर कर आ रही है. भारतीयों को जिस तरीके से महायुद्ध के बिच से बचाकर वापस लाने का काम चल रहा है. वो दुनिया को सन्देश दे रहा है की नरेंद्र मोदी एक ताकतवर नेता हैं, जो अपने देश और नागरिको की सबसे पहले परवाह करते हैं

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...