Haryana कि 13 वर्षीय बेटी ने जीता एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में गोल्ड, बढ़ाया देश का नाम

ज़रूर पढ़ें

अंतरराष्ट्रीय दंगल में रोहतक के रिठाल फौगाट गांव निवासी सुरेंद्र व उनकी पहलवान बेटी दीपांशी ने फुर्तिला प्रदर्शन कर विरोधी को चित कर दिया. दीपांशी की इस उपलब्धि पर आज देशभर में जश्न का माहौल बना हुआ है. वहीँ परिवार के सभी लोग खूब खुशियां माना रहे हैं

हर माता-पिता कि चाहत होती है कि उनके बच्चे उनके घर का नाम रौशन करें, लेकिन यहां हरियाणा कि एक छोरी ने कमाल कर दिया है. किसान परिवार की बिटिया ने सिर्फ घर हीं नहीं बल्कि पूरे भारतवर्ष का नाम रौशन कर दिया है.

- Advertisement -

मात्र 13 वर्षीय पहलवान दीपांशी ने सोमवार को बहरीन में आयोजित अंडर-15 एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में 39 किलोग्राम महिला वर्ग में गोल्ड मेडल जीतकर देश का मान बढ़ाने का काम किया है.

अपने पहले ही अंतरराष्ट्रीय दंगल में रोहतक के रिठाल फौगाट गांव निवासी सुरेंद्र व उनकी पहलवान बेटी दीपांशी ने फुर्तिला प्रदर्शन कर विरोधी को चित कर दिया. दीपांशी की इस उपलब्धि पर आज देशभर में जश्न का माहौल बना हुआ है. वहीँ परिवार के सभी लोग खूब खुशियां माना रहे हैं.

दीपांशी के पिता अपनी बेटी को अंतरराष्ट्रीय स्तर की पहलवान बनाना चाहते थे. और अब एक बार फिर से दीपांशी ने अपने पिता सर फक्र से ऊंचा कर दिया है.

- Advertisement -

किसान परिवार से संबंध रखने वाली दीपांशी के पिता सुरेंद्र गांव में ही दो एकड़ जमीन पर खेती बाड़ी करते हैं जबकि उनकी मां मीनू गृहणी हैं. आज पूरा विश्व इस किसान परिवार के हिम्मत और उनकी लाड़ली बिटिया पर गर्व महसूस कर रहा है.

बता दें कि 13 वर्षीय दीपांशी छोटी उम्र से हीं पहलवानी के छेत्र में बेहतरीन कमाल किया है. उन्होंने बचपन से हीं पहलवानी की दुनिया जमाया है. उन्होंने अब तक अनेक मेडल जीते हैं। हरियाणा कि बिटिया काफी ने अबतक कई उपलब्धियां हासिल कि जहाँ उन्होंने ज्यादातर स्वर्णिम इतिहास हीं रचा है.

इसी साल 2022 में उन्होंने बिहार के पटना में हुई अंडर-15 नेशनल प्रथम रैंकिंग कुश्ती सीरीज में गोल्ड मेडल जीतकर अपने हरियाणा का मान बढ़ाया और अपने परिवार का नाम रोशन किया.

रिठाल गांव की बेटी दीपांशी ने 2021 में नेशनल में गोल्ड मेडल जीता था जिसके बाद 2022 में भी गोल्ड मेडल जीतकर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है. यहां गांव के कोच भीम फोगाट व सुनील ने बताया दीपांशी में प्रतिभा कूट कूट कर भरी है.

अब पूरे देश को पहलवान दीपांशी से कई उम्मीदें हैं जहाँ वो आगे भी देश के लिए ऐसे हीं मेडल्स लेकर तिरंगा झंडा की शान बढ़ा सके.

- Advertisement -

Latest News

PM मोदी से आम आदमी कैसे कर सकता है बात? जाने नंबर, एड्रेस से लेकर ईमेल आईडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इतने लोकप्रिय हैं कि उनके सोशल मीडिया साइट्स पर करोड़ो फॉलोवर्स हैं. ऐसे में उनसे जुड़े...

अन्य आर्टिकल पढ़ें...