पाकिस्तान को आर्थिक चोट पर PM मोदी का सहारा, RAW के पूर्व चीफ को याद आए PM?

ज़रूर पढ़ें

पाकिस्तानी हुकूमत अंतराष्ट्रीय स्तर पर भीख मांग रही है. ऐसे में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर पाक में खूब चर्चा हो रही है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) दुनिया के लिए एक मिसाल बन गए हैं. आज भारत की छवि उन विकसित देशों में बन गई है, जिसकी नीतियों ने दुनिया को हैरान कर दिया है. अंतराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान (Pakistan) जैसे मुल्कों ने पुरजोर कोशिश की हिंदुस्तान से टकराने की लेकिन वो औंधे मुंह गिरे. आज पाकिस्तान के हालत गंभीर हो गए हैं. मुल्क में खाने के लाले पर गए हैं.

- Advertisement -

पाकिस्तानी (Pakistan) हुकूमत अंतराष्ट्रीय स्तर पर भीख मांग रही है. ऐसे में पाक को भारत से सहारे की उम्मीद हो रही है. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) को लेकर पाक में खूब चर्चा हो रही है.

पाकिस्तान को पीएम मोदी से उम्मीद 

रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (RAW) के पूर्व प्रमुख अमरजीत सिंह दुलत (AS Dulat) ने कहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) किसी न किसी स्तर पर पाकिस्तान को आर्थिक संकट (Ecnomic Crisis) से उबार सकते हैं.

पड़ोसियों को जोड़े रखने की जरूरत

मोदी (Prime Minister Narendra Modi) इस साल के अंत में किसी न किसी स्तर पर पाकिस्तान (Pakistan) की ओर रुख कर सकते हैं. थोड़ा और सार्वजनिक जुड़ाव के साथ बातचीत को खुला रखना अनिवार्य था. पाकिस्तान (Pakistan) से बात करने के लिए हर समय सबसे अच्छा समय होता है. हमें अपने पड़ोसियों को जोड़े रखने की जरूरत है.’

पाकिस्तान के बिगड़ते आर्थिक हालात

पाकिस्तान (Pakistan) में आम जरूरत के समान भी जरूरत से ज्यादा महंगे मिल रहे हैं. प्याज, चिकन, अंडे, चावल, सिगरेट और ईंधन की कीमतें आसमान छू रही हैं. मुल्क फिलहाल गंभीर वित्तीय चुनौतियों से जूझ रहा है और फंड की सख्त जरूरत है. पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार कम हो रहा है. कई घरेलू सामानों की ऊंची खुदरा कीमतों के कारण पहली बार पाकिस्तान की साप्ताहिक मुद्रास्फीति 40 प्रतिशत के पार चली गई है.

पाक पीएम की प्रधानमंत्री मोदी को रिझाने की कोशिश

कभी कश्मीर का राज अलापने वाला पाकिस्तान (Pakistan) अब भारत सरकार के आगे कहीं न कहीं झुकता नजर आ रहा है. नरम रवैया, आपसी बातचीत की सिफारिश ये तमाम तरीके पाक पीएम शाहबाज शरीफ (Shehbaz Sharif) अपना रहे हैं. शाहबाज ‘प्रधानमंत्री मोदी’ (Prime Minister Narendra Modi) का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित करने की कोशिश में जुटे हुए हैं. ताकि पाकिस्तान (Pakistan) की इकोनॉमी को ठीक करने में भारत का बड़ी मदद करे.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...