Sonia Gandhi से ED कि पूछताछ पर कांग्रेस का हंगामा, Ravishankar Prasad ने बताया कांग्रेस का यह सत्याग्रह नहीं, दुराग्रह है

ज़रूर पढ़ें

आज देशभर में कांग्रेस प्रदर्शन कर रही है, इसके साथ हीं पुलिस ने हंगामें के खतरें को भांपते हुये सुरक्षा के कड़े इंतजाम कर लिए हैं. हालाँकि अभी भी सडकों पर कांग्रेस नेता और कार्यकर्त्ता जमकर नारेबाजी कर रहे हैं. पुलिस से भी झड़प की ख़बरें सामने आ रही है

प्रवर्तन निदेशालय (ED) आज कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गाँधी से नेशनल हेराल्ड (National Herald) से जुड़े मनी लांड्रिंग मामले में पूछताछ पूरी हुई. यहां बीते दिनों राहुल गाँधी से भी ED पूछताछ कर चुकी है. उस वक़्त कांग्रेस ने जमकर हंगामा मचाया था. सड़को पर जैसे जंग का माहौल बन गया था. ऐसे में आज भी सोनिया गाँधी से प्रवर्तन निदेशालय कि दो घंटे कि पूछताछ चली, जहाँ उनसे इससे पहले ईडी उन्हें कई मर्तबा समन जारी कर चुकी है. कभी उन्होंने बीमारी का हवाला दिया, तो कभी राजनीतिक व्यस्तता का हवाला देकर पूछताछ में शामिल होने में असमर्थता जताई.

- Advertisement -

आज देशभर में कांग्रेस प्रदर्शन कर रही है, इसके साथ हीं पुलिस ने हंगामें के खतरें को भांपते हुये सुरक्षा के कड़े इंतजाम कर लिए हैं. हालाँकि अभी भी सडकों पर कांग्रेस नेता और कार्यकर्त्ता जमकर नारेबाजी कर रहे हैं. पुलिस से भी झड़प की ख़बरें सामने आ रही है.

कांग्रेस के ‘सत्याग्रह’ पर रविशंकर प्रसाद का हमला

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गाँधी से जहाँ ED कि पूछताछ दो घंटे कि पूरी हो गई है तो वहीँ दूसरी तरफ इसके विरोध में देश की प्रमुख विपक्षी पार्टी कांग्रेस द्वारा बृहस्पतिवार को “सत्याग्रह” कि बात कह रही. ऐसे में पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि विपक्षी पार्टी तो परिवार की ‘जेबी’ संस्था हो ही चुकी है, उसके नेता भी परिवार की “जेब” में हैं.

- Advertisement -

इसकी निंदा करते हुए प्रसाद ने यहां मीडिया से बातचीत में कहा, “कांग्रेस का यह सत्याग्रह नहीं, दुराग्रह है. परिवार जब पार्टी की संपत्ति को अपनी जेब में रख रहा है, तो यह उसे बचाने का दुराग्रह है. यह देश और देश के कानून, देश की संस्थाओं के खिलाफ दुराग्रह है.”

उन्होंने आरोप लगाया कि सोनिया गांधी और उनके पुत्र राहुल गांधी इस मामले में जमानत पर हैं और ये लोग उच्च न्यायालय और उच्चतम न्यायालय में हार चुके हैं.

प्रसाद ने कहा कि एक तरफ भाजपा के नेता हैं, जो कानून और संस्थाओं का सम्मान करते हैं वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस नेताओं का आचरण है कि पूछताछ के लिए बुलाए जाने के विरोध में इनके मुख्यमंत्री दिल्ली में बैठे हुए हैं, सारे सांसद सदन छोड़कर ईडी और अन्य संस्थाओं का मनोबल गिरा रहे हैं.”हम इसकी भर्त्सना करते हैं.”

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि गैरकानूनी कानूनी तरीके से नेशनल हेराल्ड की पूरी संपत्ति को यंग इंडिया को दे दिया गया. उन्होंने कहा कि नेशनल हेराल्ड एक अखबार था जो बाद में बंद हो गया और उस पर देनदारी हो गई.

उन्होंने आरोप लगाया कि “बहुत ही छंद तरीके से’’ 90 करोड़ रुपये का लोन दिया गया और एक पारिवारिक संस्था यंग इंडिया का निर्माण कर दिया गया.

भाजपा नेता ने कहा, “पूरा मामला यह है कि कांग्रेस पार्टी तो परिवार की ‘जेबी’ संस्था हो चुकी है. उनके नेता भी जेब में हैं. अब कांग्रेस पार्टी की संपत्ति भी परिवार की जेब में लाए जाने की कोशिश हो रही है.”

राहुल गाँधी से ED कर चुकी है पूछताछ

बीते दिनों ईडी ने नेशनल हेराल्ड से जुड़े धनशोधन मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी को तलब किया था. एक नहीं, दो नहीं, तीन भी नहीं, बल्कि पांच दिनों तक लगातार उनसे पूछताछ की गई थी. राहुल गांधी से हो रही पूछताछ के विरोध में जिस तरह सत्याग्रह आंदोलन की आड़ में कांग्रेस के वरिष्ठ से लेकर कनिष्ठ नेताओं ने बवाल काटा था, उसे पूरे देश ने देखा. वहीँ आज भी दिल्ली समेत कई राज्यों में सोनिया गाँधी से पूछताछ को लेकर कांग्रेस जमकर नारेबाजी और प्रदर्शन कर रही है.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...