असम में योगी मॉडल,अलकायदा मॉड्यूल के सरगना के अवैध मदरसों पर चला बुलडोजर!

ज़रूर पढ़ें

देश के पूर्वोत्तर राज्यों में आतंकी अपना पैर पसार रहे है.असम में कुछ दिन पहले ही इस्लामिक टेरर मॉडयूल का बड़ा खुलासा हुआ था,जिसमे 12 जिहादी भी पकडे गए थे.जिसका कनेक्शन बांग्लादेश से बताया गया था.अब आतंक के मुद्दे पर असम के सीएम हिमंता बिस्वा पुरे एक्शन मोड में हैं.आतंकियों और अपराधियों पर असम सरकार योगी मॉडल लागु कर रही हैं,यानि सीधा बुलडोजर से कार्रवाई कर रही है.

असम में आतंकियों पर योगी मॉडल से कारवाई

- Advertisement -

असम में आतंकियों को जड़ से खत्म करने के लिए असम सरकार योगी मॉडल अपना रही है. असम से पकड़े गए अलकायदा मॉड्यूल के सरगना मुफ्ती मुस्तफा के सहरियागांव स्थित अवैध मदरसे को राज्य सरकार ने यूपी की योगी सरकार के मॉडल को अपनाते हुए बुलडोजर से गिरा दिया है. असम पुलिस की ओर से मुस्तफा समेत अलकायदा मॉड्यूल के 11 संदिग्धों को मोरी गांव और बारपेटा से गिरफ्तार किया गया था. मुस्तफा के तार बांग्लादेश के आतंकी संगठन अंसारुल्लाह बांग्ला टीम के कमांडर से जुड़े होने के सुराग मिले हैं. पुलिस और एजेंसियां इस संबंध में जांच कर रही हैं.

क्या बोले सीएम हिमंत बिस्व सरमा

आतंकियों को जड़ से खत्म करने से सीएम हिमंत बिस्व सरमा ने एक्शन प्लान बनाया है.हिमंत बिस्व सरमा ने कहा है कि मार्च में बांग्लादेश के आंतकी संगठन अंसारुल्लाह बांग्ला टीम के 6 आतंकियों को गिरफ्तार किया गया था. उनकी गिरफ्तारी बारपेटा से हुई थी. उन्होंने बताया कि इसका सरगना बांग्लादेशी नागरिक था, जो गैर कानूनी तरह से भारत में घुसा था.

- Advertisement -

इससे पहले असम के बारपेटा जिले से बांग्लादेश में अल-कायदा नेटवर्क से जुड़े दो संदिग्ध आतंकवादियों को हाल ही में गिरफ्तार किया गया था. पुलिस के अनुसार गिरफ्तार संदिग्धों की पहचान मोरीगांव निवासी मुफ्ती मुस्तफा और अफसरुद्दीन भुयान के तौर पर की गई थी. वरिष्ठ अधिकारियों के मुताबिक, एक आतंकी को रविवार रात गारेमारी पाथर से और दूसरे आतंकी को मंगलवार सुबह कलगछिया क्षेत्र के एक गांव से गिरफ्तार किया गया था.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...