PM मोदी ने परमाणु युद्ध से बचा लिया! रूस-यूक्रेन मामलें पर अमेरिका ने की PM की तारीफ

ज़रूर पढ़ें

अमेरिका की केंद्रीय खुफिया एजेंसी के प्रमुख बिल बर्न्स ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर तारीफ की. यहां ये बयान रूस को परमाणु हथियारों से परहेज करने से जुड़ा है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) को लेकर अंतराष्ट्रीय स्तर पर कई अफवाह फैलाई गई. पाकिस्तान (Pakistan) जैसे मुल्कों ने पुरजोर कोशिश कि भारत की छवि खराब की जाए. आज भारत को ताकत से हर एक देश वाकिफ है. लाख कोशिशों के बाद भी हिंदुस्तान का नुकसान पहुँचाने में देश विरोधी ताकतें नाकाम रही. आज विश्वस्तर पर यूक्रेन और रूस के युद्ध ने हर एक देश को परेशान कर दिया है. इस बिच भारत की सोची और निति ने बड़ी कमाल दिखाया.

- Advertisement -

ताकतवर देशों का दावा है की दोनों देशो को लेकर PM मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने परमाणु हथियारों का विरोध किया. वो सबसे महत्वपूर्ण साबित हुआ है.

अमेरिकी ख़ुफ़िया एजेंसी का बयान

अमेरिका की केंद्रीय खुफिया एजेंसी के प्रमुख बिल बर्न्स (America’s Central Intelligence Agency chief Bill Burns) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की जमकर तारीफ की. यहां ये बयान रूस को परमाणु हथियारों से परहेज करने से जुड़ा है. यह बात उन्होंने तब कही है, जब दो दिन पहले ही विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कहा था कि उन्होंने भारत और चीन से रूस के परमाणु हथियारों के इस्तेमाल का विरोध करने को कहा है.

पीएम मोदी ने परमाणु पर जताया था विरोध

उन्होंने कहा की, मुझे ये लगता है कि यह बहुत महत्वपूर्ण है कि चीनी नेतृत्व और भारत के प्रधानमंत्री मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने परमाणु हथियारों के किसी भी इस्तेमाल पर अपना स्पष्ट विरोध जताया है. CIA चीफ बर्न्स रूस में अमेरिका के राजदूत भी रह चुके हैं.

परमाणु हथियारों से आएंगे गंभीर परिणाम

एक साक्षात्कार के दौरान बिल बर्न्स (America’s Central Intelligence Agency chief Bill Burns) से तुर्की में पिछले साल हुई रूसी खुफिया प्रमुख सर्गेई नारीशकिन के साथ मुलाकात के बारे में पूछा गया. बिल बर्न्स ने मीटिंग को ‘निराशाजनक’ बताया.

उन्होंने कहा, ‘मेरा लक्ष्य था कि समझौते के बारे में बात न की जाए. क्योंकि ये वह चीज है जो यूक्रेनी लोग रूसियों के साथ सही समय आने पर करेंगे. राष्ट्रपति ने मुझे क्या करने को कहा है, यह किसी भी चीज से ज्यादा था. उन्होंने मुझे नारीशकिन के माध्यम से पुतिन को यह साफ करने को कहा था कि अगर रूस परमाणु हथियारों का इस्तेमाल करता है, तो उसके गंभीर परिणाम सामने आएंगे.’ उन्होंने आगे कहा कि नारीशकिन ने इस मुद्दे की गंभीरता को समझा और पुतिन ने भी ऐसा ही किया.

अमेरिका ने चीन को दी वार्निंग

बर्न्स (America’s Central Intelligence Agency chief Bill Burns) ने यह भी कहा कि चीन चाह रहा था कि रूस को घातक हथियार दिए जाएं. लेकिन अभी यह तय नहीं हुआ है. इससे पहले भी अमेरिका ने चीन को वॉर्निंग दी थी कि अगर रूस को हथियार दिए, तो इसके गंभीर परिणाम होंगे.

- Advertisement -

Latest News

PM मोदी से आम आदमी कैसे कर सकता है बात? जाने नंबर, एड्रेस से लेकर ईमेल आईडी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इतने लोकप्रिय हैं कि उनके सोशल मीडिया साइट्स पर करोड़ो फॉलोवर्स हैं. ऐसे में उनसे जुड़े...

अन्य आर्टिकल पढ़ें...