गोरखपुर हमले के आरोपी को बचाने निकले Akhilesh Yadav, UP के Deputy CM Keshav Prasad Maurya ने दिया करारा जवाब

ज़रूर पढ़ें

सबूतों के आधार पर वो कई कट्टर इस्लामिक वीडियो देखता था, सर्च रिजल्ट के मुताबिक आरोपी ISIS की वीडियो से बेहद प्रभावित था. जबकि 21 महीनों से मुर्तज़ा अब्बासी एटीएस के रडार पर था, जहाँ उसने खाड़ी देशों में कुछ रकम ट्रांसफर की थी, तभी से वह इंटेलिजेंस के निशाने पर आ गया था

गोरखनाथ मंदिर इन दिनों चर्चा का विषय बना हुआ है वजह है, 3 मार्च को आरोपी मुर्तज़ा अब्बास ने मंदिर परिसर में हथियार लेकर घुसने की कोशिश की, दो पुलिसकर्मियों को उसने घायल कर दिया और यहां तक कि आरोपी ने सांप्रदायिक नारा अल्लाह हु अकबर का नारा लगाकर एक अलग रंग देने की कोशिश की.

- Advertisement -

अब ऐसे में आरोपी को समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का समर्थन मिल गया है.

वैसे तो ये मामला बेहद गंभीर है, चुकी गिरफ्त में आने के बाद से जब्त किये गए उसके फ़ोन और लैपटॉप से जो साक्ष्य मिले हैं वो जाहिर तौर पर देश की सुरक्षा के घातक हैं.

KESHAV PRASAD MAURYA REPLY TO AKHILESH YADAV ON MURTUZA

सबूतों के आधार पर वो कई कट्टर इस्लामिक वीडियो देखता था, सर्च रिजल्ट के मुताबिक आरोपी आईएसआईएस की वीडियो से बेहद प्रभावित था. जबकि 21 महीनों से मुर्तज़ा अब्बासी एटीएस के रेडार पर था, जहाँ उसने खाड़ी देशों में कुछ रकम ट्रांसफर की थी, तभी से वह इंटेलिजेंस के निशाने पर आ गया था.

- Advertisement -
गोरखपुर हमले के आरोपी मुर्तज़ा अब्बासी

अब ऐसे में जब सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने आरोपी के पक्ष में बयान दिया है तो तभी से वो लोगो के निशाने पर हैं जहाँ आरोप है कि, जो व्यक्ति देश विरोधी सोच लिए बैठा है उसे भारत का कोई नेता कैसे साथ दे सकते हैं.

दरअसल, प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी पर हमला बोलते हुये कहा कि मुर्तज़ा मानसिक रूप से बीमार है.

उन्होंने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा ‘इस मामले में अभी जो जानकारी मिली और उसके (मुर्तजा के) पिता ने जो कहा है उसके हिसाब से उसे दिमागी (Psychiatric) समस्याएं हैं. उसके साथ बाइपोलर इश्यूज (मनोविकार) थे. मुझे लगता है कि यह पहलू भी देखना पड़ेगा. भाजपा तो वह पार्टी है, जो बात को बढ़ा चढ़ाकर दिखाती है.’

अब ऐसे में भारतीय जनता पार्टी ने भी जोरदार हमला बोलते हुये अखिलेश यादव को घेर लिया, उत्तरप्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि “गोरखनाथ मंदिर पर जो हमला हुआ, वह गंभीर घटना है. जांच में जुटी पुलिस का मनोबल तोड़ने और ऐसे अपराध करने वालों का मनोबल बढ़ाने का प्रयास अखिलेश यादव द्वारा किया गया. उन्हें ऐसी टिप्पणी नहीं करनी चाहिए. मैं उनके बयान की भर्त्सना करता हूं.”

जहाँ डिप्टी सीएम का आक्रोश यहीं नहीं थमा, उन्होंने आगे कहा “अखिलेश जी को एक आरोपी पर खुलेआम टिप्पणी नहीं करनी चाहिए. वह पूर्व सीएम हैं. हमारे सुरक्षाकर्मियों ने उसे आतंकवादी संगठनों से जुड़े होने के बाद अपनी जान जोखिम में डालकर पकड़ लिया. उनका बयान सस्ता और निंदनीय है. समाजवादी पार्टी बनेगी ‘संपत’ पार्टी.”

मौजूदा समय में अखिलेश यादव के बयानों के बाद पूरे यूपी सहित देश की राजनीति में खलबली मच चुकी है, वहीँ सोशल मीडिया पर जमकर सपा प्रमुख की आलोचना भी हो रही है.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...