पहले जैन, फिर सिसोदिया आखिर क्या है माजरा ?

ज़रूर पढ़ें

बीजेपी के शिकंजे से आप की रीढ़ की हड्डी टूटती हुई नज़र आ रही है. एक के बाद एक कई बड़े-बड़े नेता जेल की कैद में जा रहे है. आखिर क्या है पूरा माजरा, आइए जानते है.

मुद्दे अनेक पार्टी के नेता same

दिल्ली में शराब नीति ने एक समय पर काफी तूल पकड़ा था. जिसमें ठेकों के प्राइवेटाइज़ेशन पर केंद्र सरकार (BJP) ने जमकर हमला भी बोला था. जिसके बाद इसे रद्द कर दिया गया लेकिन रद्द की जा चुकी नई आबकारी नीति में कथित भ्रष्टाचार के मामले में सीबीआई (CBI) ने दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Deputy CM Manish Sisodiya) को रविवार देर शाम गिरफ्तार कर लिया है.

- Advertisement -

इससे पहले जांच एजेंसी ने उनसे करीब 8 घंटे तक पूछताछ की. सीबीआई (CBI) की ओर से कहा गया है कि आबकारी नीति 2021-22 बनाने और उसे लागू करने में की गई गड़बड़ियों के आरोप में मनीष सिसोदिया (Manish Sisodiya) को गिरफ्तार किया गया है. सीबीआई (CBI) का कहना है कि उनके खिलाफ जुटाए गए सबूतों के बारे में उनसे पूछताछ की गई, लेकिन वह जांच में सहयोग नहीं कर थे. जवाब टालमटोल तरीके से दे रहे थे. उन पर निजी व्यक्तियों को लाभ पहुंचाने का आरोप है. उन्हें दिल्ली की अदालत में पेश किया जाएगा. सूत्रों ने दावा किया कि उनसे दस्तावेजी, इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल सबूतों के बारे में पूछताछ की गई.

सिसोदिया पर लगे आरोप

केंद्रीय जांच ब्यूरो ने सिसोदिया पर आरोप लगाया है कि उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया(Deputy CM Manish Sisodiya) , आबकारी आयुक्त अरवा गोपी कृष्ण, उपायुक्त आनंद तिवारी और सहायक आयुक्त पंकज भटनागर की साल 2021-22 के लिए दिल्ली की नई आबकारी नीति से संबंधित सिफारिशें करने और निर्णय लेने में मत्वपूर्ण भूमिका थी. इन्होंने सक्षम प्राधिकारी की मंजूरी के बिना आबकारी नीति से जुड़ीं सिफारिशें कीं और निर्णय लिए.

- Advertisement -

यह भी आरोप है कि इन लोगों ने निविदा के बाद लाइसेंसधारियों को अनुचित लाभ पहुंचाया. सीबीआई (CBI) ने अपनी एफआईआर (FIR) में यह भी आरोप लगाया है कि शराब व्यवसायी अमित अरोड़ा, दिनेश अरोड़ा और अर्जुन पांडे मनीष सिसोदिया के करीबी सहयोगी हैं. ये तीनों शराब लाइसेंसधारियों और आरोपी अधिकारियों से एकत्रित ‘अनुचित आर्थिक लाभ’ को मैनेज और डायवर्ट करने में सक्रिय रूप से शामिल हैं.

- Advertisement -

Latest News

अन्य आर्टिकल पढ़ें...